ताज़ा खबर
 

सांसद ने देश की महिलाओं से की अपील- पति जब तक वोटर आईडी न दिखाए मत बनाने देना शारीरिक संबंध

कीनिया में अगले राष्ट्रपति को चुनने के लिए अगस्त में जनरल इलेक्शन होने हैं और वोटर आईडी के लिए रजिस्ट्रेशन की आखिरी तारीख 17 फरवरी है

मोम्बासा में महिलाओं की प्रतिनिधि मिशि मबोको।

कीनिया में महिलाओं को तब तक अपने पति के साथ संबंध ना बनाने की अपील की गई है जब तक अगस्त में होने वाले चुनावों के लिए वोटर के तौर पर पति अपना  पंजिकरण नहीं करा देते। यह अपील मिशि मबोको नाम की महिला सांसद ने की है। सांसद का कहना है कि यह विपक्ष के गढ़ में अपने वोट बढ़ाने के लिए यह अच्छी रणनीति है। मोम्बासा में महिलाओं की प्रतिनिधि मबोको ने बताया कि सेक्स एक शक्तिशाली हथियार है और यह ऐसे पुरुषों को प्रोत्साहित करेगा जो अपना पंजिकरण कराने में इच्छुक नहीं है।

मबोको ने कहा, “महिलाओं को यह रणनीति अपनानी चाहिए। यह सबसे बढ़िया है। तब तक सेक्स से इंकार करो जब तक वह आपना  वोटर आईडी कार्ड ना दिखा दें।” कीनिया में अगले राष्ट्रपति को चुनने के लिए अगस्त में जनरल इलेक्शन होने हैं और वोटर आईडी के लिए रजिस्ट्रेशन की आखिरी तारीख 17 फरवरी है। मबोको ने कहा कि उनके पति पहले से वोटिंग के लिए पंजिकृत हैं नहीं तो वह अपने पति के साथ भी ऐसा करतीं।

HOT DEALS
  • I Kall Black 4G K3 with Waterproof Bluetooth Speaker 8GB
    ₹ 4099 MRP ₹ 5999 -32%
    ₹0 Cashback
  • Apple iPhone 7 128 GB Jet Black
    ₹ 52190 MRP ₹ 65200 -20%
    ₹1000 Cashback

आगामी चुनाव में कीनिया के वर्तमान प्रेसिडेंट उहूरू केन्याट्टा (Uhuru Kenyatta) दूसरे कार्यकाल के लिए चुनाव लड़ेंगे। हालांकि, उन्हें विपक्षी पार्टियों के गठबंधन का प्रतिनिधित्व करने वाले एक उम्मीदवार से कड़ी टक्कर मिल सकती है। विपक्षी पार्टियो में मबोको की पार्टी ऑरेंज डेमोक्रेटिक मूंवमेंट (ODM) भी शामिल है। मबोको के मुताबिक, अब समय आ गया है जब चुनाव को गंभीरता से लेना होगा और महिलाओं को भी कदम उठाना होगा।

कीनिया में सेक्स का बहिष्कार काफी आम रहा है। 2009 में कुछ महिला कार्यकर्ताओं ने तत्कालीन प्रेसिडेंट मवाई किबाकी (Mwai Kibaki) और पीएम राइला ओडिंगा (Raila Odinga) और उनके सहयोगियों के बीच मन-मुटाव खत्म कराने के लिए एक हफ्ते लंबी हड़ताल की थी।

महिला ने की मनचले की चप्पल से पिटाई

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App