ताज़ा खबर
 

पाकिस्तान में हिंदू पत्रकार की हत्या, नाई की दुकान पर बाल कटवा रहे थे अजय लालवानी; बांग्लादेश में हिंदू घरों पर हमले के लिए उकसाया

'द न्यूज इंटरनेशनल' ने खबर दी कि अजय लालवानी एक स्थानीय टेलीविजन चैनल और उर्दू भाषा के अखबार ‘डेली पुचानो’ में रिपोर्टर थे।

Author Edited By Ikram नई दिल्ली | Updated: March 20, 2021 8:04 PM
national news india newsहत्या की निंदा करते हुए पाकिस्तान की नेशनल असेंबली में हिंदू सदस्य लालचंद मल्ही ने कहा कि यह ‘गंभीर चिंता का विषय’ है। (twitter/HamidMirPA)

पाकिस्तान के सिंध प्रांत में नाई की दुकान पर बाल कटवा रहे 31 वर्षीय हिंदू पत्रकार की अज्ञात अपराधियों ने गोली मारकर हत्या कर दी। यह जानकारी शनिवार को मीडिया की खबरों में दी गई। ‘द न्यूज इंटरनेशनल’ ने खबर दी कि अजय लालवानी एक स्थानीय टेलीविजन चैनल और उर्दू भाषा के अखबार ‘डेली पुचानो’ में रिपोर्टर थे।

इसने बताया कि बृहस्पतिवार को उनके पेट, बांह और घुटने में गोली लगने से उनकी मौत हो गई। वह सुक्कुर शहर में नाई की दुकान में बैठे थे, तभी दो मोटरसाइकिल एवं एक कार में सवार हमलावरों ने गोलियां चलानी शुरू कर दीं। लालवानी को नजदीक के अस्पताल में ले जाया गया, जहां उनकी मौत हो गई। खबरों के मुताबिक उनके पिता दिलीप कुमार ने कहा कि उनके परिवार की किसी से दुश्मनी नहीं थी और पुलिस के इस दावे को खारिज कर दिया कि निजी दुश्मनी के कारण उनकी हत्या हुई।

पुलिस ने शुक्रवार को तीन अज्ञात अपराधियों के खिलाफ प्राथमिकी दर्ज की और जांच शुरू कर दी। हत्या की निंदा करते हुए पाकिस्तान की नेशनल असेंबली में हिंदू सदस्य लालचंद मल्ही ने कहा कि यह ‘गंभीर चिंता का विषय’ है। पत्रकारों के एक समूह ने लालवानी की हत्या के खिलाफ प्रदर्शन किया और उनके अंतिम संस्कार के बाद मार्च निकाला।

इधर बांग्लादेश के सिलहट संभाग में हिंदुओं के 80 घरों पर हमले के लिए उकसाने के मुख्य संदिग्ध को पुलिस ने शनिवार को गिरफ्तार कर लिया। अल्पसंख्यक समुदाय के एक युवक द्वारा सोशल मीडिया पर कथित रूप से एक पोस्ट किए जाने के बाद कट्टरपंथी इस्लामी समूह ने ये हमला किया था। ‘बीडीन्यूज24.कॉम’ की खबर के अनुसार पुलिस अन्वेषण ब्यूरो (पीआईबी) ने यूनियन परिषद के सदस्य तथा युवा लीग के स्थानीय वार्ड के अध्यक्ष शाहिद-उल-इस्लाम स्वादीन को मौलवीबाजार जिले से गिरफ्तार कर लिया।

पीआईबी के विशेष पुलिस अधीक्षक खालिद-उज-जमां ने कहा, ‘स्वादीन शल्ला उपजिला के नवगांव में किए गए हमलों में मुख्य संदिग्ध है।’ पुलिस ने कहा कि स्वादीन समेत कुल 23 लोगों को अबतक गिरफ्तार किया जा चुका है। बुधवार को सिलहट संभाग के सुमनगंज जिले के शल्ला उपजिला में हिफाजत-ए-इस्लाम के नेता ममनून-उल-हक के हजारों समर्थकों ने हिंदुओं के एक गांव पर हमला कर दिया था, जिसके सिलसिले में ये गिरफ्तारियां की गई हैं।

Next Stories
1 World Happiness Report: दुनिया का सबसे खुश देश फिनलैंड, चीन को 84वां और भारत को 139वां स्थान; पाकिस्तान की स्थिति भी बेहतर
2 COVID-19: चीन की वैक्सीन लगवाने के दो दिन बाद ही कोरोना पॉजिटिव मिले इमरान खान, आइसोलेशन में भेजे गए
3 नहीं बाज आ रहा चीन! US अफसर का दावा- हिंद-प्रशांत क्षेत्र में पहले से अधिक आक्रामक रुख अपना लिया
ये पढ़ा क्या?
X