ताज़ा खबर
 

बैलिस्टिक मिसाइल परीक्षणों पर कार्रवाई की ईरान को नहीं कोई उम्मीद

ईरान के रक्षा मंत्री ने कहा है कि उन्हें यकीन है कि संयुक्त राष्ट्र सुरक्षा परिषद पश्चिमी शक्तियों की मांग के बावजूद उसके बैलेस्टिक मिसाइल परीक्षणों पर कोई कार्रवाई नहीं करेगी।

Author तेहरान | April 1, 2016 5:46 AM
representative image

ईरान के रक्षा मंत्री ने कहा है कि उन्हें यकीन है कि संयुक्त राष्ट्र सुरक्षा परिषद पश्चिमी शक्तियों की मांग के बावजूद उसके बैलेस्टिक मिसाइल परीक्षणों पर कोई कार्रवाई नहीं करेगी।

ब्रिटेन, फ्रांस, जर्मनी और अमेरिका ने सोमवार को एक संयुक्त पत्र लिखकर इन परीक्षणों को लेकर कार्रवाई की मांग की थी। उन्होंने कहा कि ये परीक्षण ईरान और बड़ी शक्तियों के बीच पिछले साल के ऐतिहासिक परमाणु करार तथा सुरक्षा परिषद के संबंधित प्रस्ताव का उल्लंघन हैं।

उन्होंने कहा कि आठ और नौ मार्च को शहाब-3 और कियाम-1 नामक मिसाइलों का परीक्षण किया गया जो संबंधित प्रस्ताव का उल्लंघन है क्योंकि ये मिसाइलें परमाणु आयुध ले जाने में सक्षम हैं जबकि ईरान इससे इनकार करता है।

ईरान के रक्षा मंत्री जनरल हुसैन डेहगान ने कहा, ‘मुझे यकीन है कि सुरक्षा परिषद और संयुक्त राष्ट्र कार्रवाई नहीं करेंगे क्योंकि हमारी कार्रवाई संयुक्त समग्र कार्ययोजना (जुलाई के परमाणु समझौते) का उल्लंघन नहीं है और न ही वे प्रस्ताव 2231 के विरूद्ध है।’ उन्होंने दोहराया कि ईरान की कभी परमाणु हथियार बनाने की आकांक्षा रही और कहा कि उसकी मिसाइलें केवल पारंपरिक आयुध ले जाने में सक्षम है।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App