ताज़ा खबर
 

संयुक्त राष्ट्र कर्मी को रिहा करने की अपील इस्राइल ने ठुकराई

इस्राइल की एक अदालत ने फलस्तीन के 38 वर्षीय इंजीनियर पर गाजा में यूएनडीपी की एक परियोजना के 300 टन मलबे को हमास के लिए एक जेट्टी बनाने की खातिर भेजने का आरोप लगाया था।

Author संयुक्त राष्ट्र | August 26, 2016 11:39 AM
संयुक्त राष्ट्र। (फोटो-रॉयटर्स)

इस्राइल ने संयुक्त राष्ट्र के उस कर्मी को रिहा करने की विश्व निकाय की अपील ठुकरा दी है जिस पर हमास की मदद करने का आरोप है। संयुक्त राष्ट्र ने अपने कर्मचारी को इस आधार पर रिहा करने की अपील की थी कि उसे राजनयिक छूट प्राप्त है। इस्राइल के राजदूत डेन्नी डेनॉन ने गुरुवार (25 अगस्त) को कहा कि संयुक्त राष्ट्र के विधि मामलों के दफ्तर ने वहीद बोर्श को रिहा करने के लिए एक औपचारिक गुजारिश पत्र जारी किया था जो संयुक्त राष्ट्र विकास कार्यक्रम (यूएनडीपी) के लिए काम करता था। अगस्त के शुरू में इस्राइल की एक अदालत ने फलस्तीन के 38 वर्षीय इंजीनियर पर गाजा में यूएनडीपी की एक परियोजना के 300 टन मलबे को हमास के लिए एक जेट्टी बनाने की खातिर भेजने का आरोप लगाया था।

डेनॉन ने पत्र की प्रतिक्रिया में कहा, ‘हम आतंकवादियों को छूट नहीं देते जो हमारे नागरिकों को नुकसान पहुंचाने की कोशिश करते हैं।’ संयुक्त राष्ट्र में इस्राइली मिशन की ओर से जारी किए गए एक बयान में उन्होंने कहा कि इस्राइल कानून के मुताबिक चलता है और इस मामले में भी हम ऐसा ही करेंगे। विधि मामलों के कार्यालय ने दलील दी कि बोर्श को संयुक्त राष्ट्र कर्मी के तौर पर गिरफ्तारी और कानूनी प्रक्रिया से छूट मिली हुई है। साथ ही कार्यालय ने अनुरोध किया था कि संयुक्त राष्ट्र के अधिकारियों को जेल में उससे मिलने की अनुमति दी जाए।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ लिंक्डइन पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App