ताज़ा खबर
 

फेसबुक पर IS लड़ाके ने डाली Sex Slaves की फोटो, लिखा- $8,000 में हो सकती हैं आपकी

कुख्‍यात आतंकी संगठन इस्‍लामिक स्‍टेट अब इंटरनेट पर सेक्‍स दासियां बेच रहा है। फेसबुक पर एक पोस्‍ट में एक इस्‍लामिक स्‍टेट के लड़ाके ने महज 8,000 डॉलर में सबिया(दासी) बेचने की पेशकश की। हालांकि कुछ ही देर में फेसबुक ने यह पोस्‍ट हटा दी।

ISIS आतंकवादियों द्वारा महीनों तक गुलाम बनाकर ईराक में रखी गई एक यजीदी लड़की। (The Washington Post)

इस्‍लामिक स्‍टेट लड़ाके की ओर से फेसबुक पर एक महिला की तस्‍वीर डाली गई। उसकी उम्र करीब 18 साल होगी। रंग सांवला और चेहरेे पर बड़ा पर्दा, फेसबुक पर उसकी फोटो में वो मुस्‍कुराने की कोशिश करती हैं, लेकिन फोटोग्राफर की तरफ नहीं देखती। 20 मई को अपलोड की गई फोटो के साथ लिखा गया, “उन सभी भाइयों के लिए जो एक गुलाम खरीदने की सोच रहे हैं, यह सिर्फ 8,000 डॉलर में आपकी हो सकती है।” कुछ घंटों बाद एक और लड़की की फोटो डालकर लिखा गया, “एक और गुलाम, सिर्फ 8,000 डॉलर में।”

The Washington Post की खबर के अनुसार, फेसबुक ने कुछ ही घंटों में फोटो हटा लीं। यह साफ नहीं हो सका कि पोस्‍ट डालने वाला खुद ही सेक्‍स दासियां बेच रहा था या दूसरे लड़ाकों द्वारा लड़कियां बेचे जाने पर टिप्‍पणी कर रहा था। ईराक और सीरिया में आईएस पर बढ़ते दबाव के बीच इन महिला गुलामोंं को बहुत मुसीबत झेलनी पड़ रही है। पैसों के लिए लड़ाके उन्‍हें बेचते हैं या सामान के बदले बदल लेते हैं।

इस्‍लामकि स्‍टेट के लड़ाकों ने हाल के महीनों में कई बार सेक्‍स दासियांं बेचने की कोशिश की है। साथ ही कई बार उन सेक्‍स दासियों से पेश आने के तरीके भी बताए। जैसे किशोरावस्‍था या यौवन की दहलीज पर खड़ी कैदियों से सेक्‍स किया जा सकता है या नहीं। इस्‍लामिक स्‍टेेट के कानूनी जानकार यह भी बताते हैं कि एक गुलाम को कितनी बुरी तरह पीटा जा सकता है।

इस्‍लामिक स्‍टेट के नेताओं ने अमेरिका की सोशल मीडिया कंपनियों जैसे फेसबुक और टिवटर का इस्‍तेमाल लड़ाके नियुक्‍त करने और प्रचार-प्रसार के लिए किया है। लेकिन पिछले साल से अमेरिकी कंपनियों ने जिहादी अकाउंट और पोस्‍ट को बैन करना शुरू कर दिया है।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App