ताज़ा खबर
 

ISIS की हिम्मत: ओबामा को दे डाली सिर कलम करने की धमकी!

अमेरिकी राष्ट्रपति बराक ओबामा अभी-अभी भारत का दौरा कर अपने देश लौटे ही हैं कि उन्हें इस्लामिक स्टेट ने एक ताजा वीडियो जारी कर उनका सिर कलम करने की धमकी दे डाली है। यही नहीं रिपोर्ट के मुताबिक आतंकियों ने अमेरिका को अपनी तरह का इस्लामिक स्टेट बनाने की भी चेतावनी दे दी है। आतंकी […]

Author Updated: January 29, 2015 3:44 PM

अमेरिकी राष्ट्रपति बराक ओबामा अभी-अभी भारत का दौरा कर अपने देश लौटे ही हैं कि उन्हें इस्लामिक स्टेट ने एक ताजा वीडियो जारी कर उनका सिर कलम करने की धमकी दे डाली है। यही नहीं रिपोर्ट के मुताबिक आतंकियों ने अमेरिका को अपनी तरह का इस्लामिक स्टेट बनाने की भी चेतावनी दे दी है।

आतंकी संगठन आईएसआईएस ने विडियो जारी करके अमेरिकी राष्ट्रपति बराक ओबामा को वाइट हाउस में घुसकर उनका सिर कलम करने की धमकी दी है। अमेरिका को मुस्लिम प्रांत में तब्दील करने की धमकी भी दी गई है।

विडियो में धमकी दे रहा आतंकी इराक के दूसरे सबसे बड़े शहर मोसुल में घुटने के बल झुके एक कुर्दिश सैनिक के पास खड़ा है, जिसका विडियो के अंत में सिर कलम कर देता है। कुर्दिश सैनिक का सिर कलम करने से पहले आईएसआईएस का आतंकी कुर्दिश में एक संदेश भी देता है, विडियो में इसका सबटाइटल अरबी में दिया गया है।
26 जनवरी को जारी विडियो में जो कुछ भी कहा गया है, उसका मध्य-पूर्व मीडिया रिसर्च इंस्टिट्यूट द्वारा किए गए अनुवाद के मुताबिक, आतंकी अमेरिकी राष्ट्रपति को चेतावनी देता हुए कहता है, ‘ओबामा, हम अमेरिका पहुंचेंगे और यह जान लो कि तुम्हारा सिर वाइट हाउस में ही कलम करेंगे। इसके बाद अमेरिका को मुस्लिम प्रांत में बदल देंगे।’

26 जनवरी को कुर्दिश सैनिकों को तुर्की सीमा पर स्थित रणनीतिक रूप से महत्वपूर्ण सीरियाई कस्बे कोबाने से आईएसआईएस को खदेड़ने में कामयाबी मिली है। इस लड़ाई में आतंकी संगठन के 1500 लड़ाके भी मारे गए। इसी का बदला लेने के लिए आईएसआईएस ने कुर्दिश सैनिक का सिर कलम करने का विडियो जारी किया है।

इतना ही नहीं, इस विडियो में दूसरे पश्चिमी देशों फ्रांस और बेल्जियम में हमले करने की भी धमकी दी गई है। आतंकी कहता है, ‘फ्रांस और बेल्जियम के लिए मेरा संदेश यह है कि हम तुम्हारे यहां कार बम और दूसरे तरीकों से धमाके करेंगे। तुम्हारे सिर भी काट डालेंगे।’ पैरिस में हाल में हुए आतंकी हमले में 17 लोगों की मौत हो गई थी। कुछ दिनों बाद बेल्जियम की खुफिया एजेंसी ने एक हमले की साजिश नाकाम कर दिया था।

आईएसआईएस के नए टेप में जिस तरह से अमेरिका पर निशाना साधा गया है, उसके पीछे अहम वजह है कि इराक में अमेरिका समेत कई देश कुर्दिश लड़ाकों को हथियार और ट्रेनिंग मुहैया करा रहे हैं। इराक में आईएसआईएस के आतंकियों और कुर्दिश लड़ाकों के बीच जमीनी जंग भी लगातार जारी है। इसी से नाराज होकर आईएस ने कुर्दिश लड़ाके की बेरहमी से हत्या करके अमेरिका को चेतावनी देने की कोशिश कर रहे हैं।

Next Stories
1 ‘ओबामा-मोदी के प्रेम को ज़्यादा न आंके चीन’
2 भारत के साथ सामान्य संबंध चाहता है पाकिस्तान: नवाज़ शरीफ़
3 भारत-अमेरिका के संबंधों का मकसद चीन को ‘काबू में करना’ नहीं
यह पढ़ा क्या?
X