ताज़ा खबर
 

IS का अगला निशाना ‘बंगाल’, मैगजीन के ताजा अंक में दी आतंकी हमलों की धमकी

मैगजीन में 'The Revival of Jihad in Bengal' (बंगाल में फिर से जिहाद स्‍थापित करना) शीर्षक के साथ छपे लेख में बांग्‍लादेश सरकार को भी निशाने पर लिया गया है।

Author नई दिल्‍ली | November 23, 2015 1:03 PM
इस्लामिक स्टेट

आतंकी संगठन इस्लामिक स्टेट (IS) ने बांग्‍लादेश में आतंकी हमलों की धमकी दी है। आईएस की मैगजीन Dabiq के लेटेस्‍ट एडिशन में एक पूरा आर्टिकल लिखा गया है, जिसमें आतंकी संगठन ने अपनी भविष्‍य की योजनाओं का जिक्र किया है। इसमें प्रयोग किए गए शब्‍द से ऐसा लगता है कि आईएस सिर्फ बांग्‍लादेश नहीं बल्कि पश्चिम बंगाल को भी निशाने पर लेने की साजिश रच रहा है। Dabiq में छपे लेख में ‘बंगाल’ शब्‍द का इस्‍तेमाल किया गया है। इससे उसके मंसूबे साफ जाहिर हो जाते हैं।

‘The Revival of Jihad in Bengal’ (बंगाल में फिर से जिहाद स्‍थापित करना) शीर्षक के साथ छपे लेख में बांग्‍लादेश सरकार को भी निशाने पर लिया गया है। मैगजीन के मुताबिक, ‘हमारी हमलों की तैयारी के बीच सेक्‍युलर अवामी लीग बातों को तोड़-मरोड़ कर पेश करती रही।’ आईएस ने लेख में बांग्‍लादेश की अंदरूनी राजनीति का भी जिक्र किया है, जिसमें उसने जमात उल मुजाहिदीन बांग्‍लादेश (JMB) को कुरान और सुन्‍नत के मुताबिक जिहादी संगठन करार दिया है।

सुरक्षा विशेषज्ञों की मानें तो बांग्लादेश से सटे भारत के पश्चिम बंगाल और असम में भी आईएस भर्तियां कर सकता है। गृह मंत्रालय ने कुछ दिनों पहले ही देश में आईएस के खतरे की ओर इशारा करते हुए अलर्ट जारी किया था। सूत्रों के अनुसार, कोलकाता से सटे हावड़ा में इंटरनेट पर आईएस से जुड़ी सामग्री ज्यादा पढ़ी जा रही हैं। देश का यह चौथा शहर है जहां इंटरनेट पर लोग आईएस के बारे में ज्यादा खोजबीन कर रहे हैं। वैसे भी बांग्‍लादेश से सटे होने के कारण यहां सबसे ज्‍यादा खतरा है। ताजा लेख में आईएस ने बांग्‍लादेश में अपना नेटवर्क होने की बात कही है और यह सच है तो फिर खतरा बढ़ गया है।

Read Also:

IS ने ली जिम्‍मेदारी, कहा- पूरी तैयारी के साथ 8 फिदायीनों ने अंजाम दिया पेरिस हमला

पेरिस हमले के बाद भारत पर भी मंडरा रहा ISIS का खतरा, केंद्र ने सभी राज्‍यों को किया अलर्ट

 

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ लिंक्डइन पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

X