ताज़ा खबर
 

पाकिस्तान पर दोहरी मार: भारत के साथ-साथ ईरान ने भी किया हमला

पाकिस्तान के लिए गुरुवार दोहरी मार वाला रहा। जहां उसकी एक सीमा पर भारतीय सेना ने सर्जिकल स्ट्राइक किया वहीं दूसरे बॉर्डर पर ईरान की सेना ने उसपर मोर्टार दाग दिए।

पाकिस्तान के प्रधानमंत्री नवाज शरीफ। (फाइल फोटो)

पाकिस्तान के लिए बुधवार (28 सितंबर) और गुरुवार (29 सितंबर) के दिन दोहरी मार वाले रहे। जहां उसकी एक सीमा पर भारतीय सेना ने सर्जिकल स्ट्राइक किया वहीं दूसरे बॉर्डर पर ईरान की सेना ने उसपर मोर्टार दाग दिए। ईरान की तरफ से ये मोर्टार बलूचिस्तान के इलाके में दागे गए थे। बलूचिस्तान के अधिकारियों ने इसे अचानक होने वाला हमला बताया। अधिकारी ने कहा, ‘मोर्टार ईरान की सेना द्वारा पंजोर जिले में दागे गए थे।’ मिली जानकारी के मुताबिक, ईरान की सेना द्वारा तीन मोर्टार दागे गए। हालांकि, इसमें कोई जान-माल की हानि नहीं हुई। अधिकारी ने बताया कि दो मोर्टार फ्रंटीयर चेकपोस्ट के पास आकर गिरे थे। वहीं तीसरा मोर्टार किली करीम दाद इलाके में गिरा था। मोर्टार गिरने के बाद वहां आसपास रहने वाले लोग डर गए थे। लेकिन बलूचिस्तान में मौजूद सेना ने फटाफट मामले को काबू में कर लिया।

गौरतलब है कि पाकिस्तान और ईरान के बॉर्डर की लंबाई 900 किलोमीटर है। ईरान बार-बार आरोप लगाता रहता है कि पाकिस्तान बॉर्डर के पास वाले इलाके का इस्तेमाल आतंकियों को शरण देने के लिए करता है जो उनपर हमला करते रहते हैं। दोनों देशों के बीच पहले भी लड़ाईयां होती रही हैं। पाकिस्तान और ईरान ने 2014 में एक एग्रीमेंट भी साइन किया था जिसमें आतंक से साथ मिलकर निपटने की बात कही गई थी लेकिन अबतक ऐसा कुछ ना हो सका है।

गौरतलब है कि भारतीय सेना ने बुधवार (28 सितंबर) को लाइन ऑफ कंट्रोल (LOC) पार करके पाकिस्तान अधिकृत कश्मीर (POK) में घुसकर कई आतंकी ठिकानों को नष्ट किया था। इसमें दुश्मन को भारी नुकसान पहुंचा था। पाकिस्तान ने भारत के सर्जिकल स्ट्राइक के दावे को झूठ बताया। उसने कहा कि भारतीय सेना ने सर्जिकल स्ट्राइक नहीं किया बल्कि युद्ध विराम तोड़ा था जिसका करारा जवाब दिया गया था और इस दौरान पाकिस्तान के 2 सिपाही मारे गए थे। पाकिस्तान ने उन सिपाहियों की तस्वीरें भी जारी की थीं। जिन सिपाहियों की मौत हुई वे दोनों हवलदार थे। उनमें से एक का नाम जुम्मा खान था और दूसरे का नाम नाइक इम्तियाज। उधर गुरुवार को पाकिस्तान पर ईरान ने भी हमला किया था। ईरान की सेना ने उसपर मोर्टार दाग दिए थे। ईरान की तरफ से ये मोर्टार बलूचिस्तान के इलाके में दागे गए थे। ईरान ने तीन मोर्टार दागे थे।

Read Also: एनालिसिस: पांच प्वाइन्ट में समझिए भारत के लिए क्या है सर्जिकल स्ट्राइक के मायने

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App