ताज़ा खबर
 

Atom Bomb टेस्ट कर रहा ईरान? पर्वतीय क्षेत्र में जोरदार विस्फोट संदिग्ध मिसाइल स्थल से हुआ- एक्सपर्ट्स का दावा

तेहरान के पास शुक्रवार को क्या विस्फोट हुआ यह साफ नहीं हो सका है? जिसके बाद आसमान में भारी मात्रा में आग की लपटें दिखायी दीं।

Author दुबई | Updated: June 27, 2020 9:58 PM
European Commission’s Sentinel-2 सैटेलाइट से इरान में इस जगह शुक्रवार 26 जून को विस्फोट हुआ था। विशेषज्ञों का कहना है कि यह धमाका तेहरान इलाके में हुआ है। (फोटोः AP)

ईरान की राजधानी को दहला देने वाले विस्फोट को इसके पूर्वी पर्वतीय क्षेत्र से अंजाम दिया गया था, जिसके बारे में विशेषज्ञों का मानना है कि वहां एक छुपी हुई भूमिगत सुरंग प्रणाली और मिसाइल उत्पादन स्थल है। शनिवार को सामने आई सेटेलाइट तस्वीरों के आधार पर यह दावा किया गया है।

तेहरान के पास शुक्रवार को क्या विस्फोट हुआ यह साफ नहीं हो सका है? जिसके बाद आसमान में भारी मात्रा में आग की लपटें दिखायी दीं। इसी तरह विस्फोट का कारण भी स्पष्ट नहीं हुआ।

हालांकि, विस्फोट के बाद ईरानी सरकार की असामान्य प्रतिक्रिया उस संवेदनशील क्षेत्र की ओर इशारा करती है, जिसके बारे में अंतरराष्ट्रीय निगरानीकर्ता मानते हैं कि इस्लामिक गणराज्य ने दो दशक पहले परमाणु हथियार दागने के लिए उच्च क्षमता वाले विस्फोट का परीक्षण किया था।

अलबोर्ज पहाड़ क्षेत्र में शुक्रवार तड़के हुए धमाके के बाद मकान हिल गए, खिड़कियां थर्रा गईं और आसमान में उजाला हो गया। इसके बाद सरकारी चैनल पर दिखाए गए दृश्यों में इसे विस्फोट का स्थान बताया गया।

रक्षा मंत्रालय के प्रवक्ता दावूद अब्दी ने गैस लीक होने को विस्फोट का कारण करार दिया और कहा कि विस्फोट में किसी की मौत नहीं हुई। रक्षा मंत्रालय के प्रवक्ता अब्दी ने इस लोकेशन को ‘पब्लिक एरिया’ बताया।

अमेरिका के कैलिफोर्निया में Middlebury Institute of International Studies in Monterey स्थित James Martin Center for Nonproliferation Studies में रिसर्चर फेबियन हिन्ज ने कहा कि गैस स्टोरेज एरिया उसी इलाके के पास है, जिसे एनालिस्ट्स ने ईरान में खोजिर मिसाइल स्थल होने की संभावना जताई है।

वॉशिंगटन आधारित Center for Strategic and International Studies ने खोजिर की पहचान ऐसे स्थान के तौर पर की, जहां “कई सारी सुरंगें, सेना के लिए कुछ संदिग्ध स्थल” आदि हैं। सैटेलाइट तस्वीरों में बड़ी औद्योगिक इमारतें नजर आईं, जो कि संकेत देती हैं कि वहां मिसाइल स्थल हो सक

Hindi News के लिए हमारे साथ फेसबुक, ट्विटर, लिंक्डइन, टेलीग्राम पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News AppOnline game में रुचि है तो यहां क्‍लिक कर सकते हैं।

Next Stories
1 नेपालः ओली पर बन रहा PM पद से इस्तीफा देने का दबाव, पद छिनने के डर से अपने घर में ही रखी गई पार्टी मीटिंग में नहीं पहुंचे
2 नियमों का उल्लंघन करने वाले सभी पोस्ट पर चेतावनी संकेत लगाएगा फेसबुक
3 जैक मा को शुरुआती मदद देने वाले मासायोशी ने तोड़ी दोस्ती, 20 साल से थे साथ
IPL 2020 LIVE
X