ताज़ा खबर
 

अमेरिका का सीरिया पर हमला: इन देशों के अलावा सबने किया समर्थन

इस्राइली प्रधानमंत्री बेंजामिन नेतन्याहू ने कहा कि वह अमेरिकी हमले द्वारा ‘‘मजबूत और साफ संदेश’’ का समर्थन करते हैं।

Author April 8, 2017 18:30 pm
सीरिया पर अमेरिकी सैन्य ने घातक रासायनिक हमला किया। (Image Source: PTI)

सीरिया पर अमेरिकी सैन्य हमले का शनिवार (8 अप्रैल) को विश्व के ज्यादातर देशों ने स्वागत किया और ब्रिटेन एवं इस्राइल जैसे देशों ने इसे राष्ट्रपति बशर अल असद सरकार द्वारा रसायनिक हमले का उचित जवाब बताया। हालांकि, रूस और ईरान ने इस एकतरफा कार्रवाई की कड़ी निंदा की। ब्रिटेन ने कहा कि वह मंगलवार को खान शेखुन में संदिग्ध रसायनिक हथियार हमले को लेकर सीरिया में सैन्य अड्डे पर अमेरिकी मिसाइल हमले का पूरी तरह से समर्थन करता है।

चीन ने भी सीरिया में घातक रसायनिक हमले की निंदा की

चीन के विदेश मंत्रालय की प्रवक्ता हुआ चुनयिंग ने कहा कि हम सीरिया में हालिया रसायनिक हमले की निंदा करते हैं, और हम रसायनिक हथियारों के संदिग्ध प्रयोग की संबंधित संयुक्त राष्ट्र एजेंसियों द्वारा निष्पक्ष एवं विस्तृत जांच का समर्थन करते हैं।

इस्राइली प्रधानमंत्री बेंजामिन नेतन्याहू ने कहा कि वह अमेरिकी हमले द्वारा ‘‘मजबूत और साफ संदेश’’ का समर्थन करते हैं। आस्ट्रेलियाई प्रधानमंत्री मैल्कम टर्नबुल ने कहा कि आस्ट्रेलियाई सरकार अमेरिका द्वारा तेज एवं उचित प्रतिक्रिया का मजबूती से समर्थन करती है।

उधर, असद सरकार के करीबी सहयोगियों में शामिल रूस ने कहा कि वह अमेरिकी हमले को ‘‘एक संप्रभु राष्ट्र के खिलाफ आक्रमण’’ मानती है जो अमेरिका रूस संबंधों को और खराब करेगा।

ईरान ने भी सैन्य हमले की कड़ी निंदा की

ईरान के विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता बहराम गासेमी ने ‘फार्स समाचार एजेंसी’ से कहा कि हम अमेरिकी विमानों द्वारा सभी एकतरफा सैन्य कार्रवाई और मिसाइल हमले की निंदा करते हैं।

जर्मनी की चांसलर एंजेला मर्केल और फ्रांस के राष्ट्रपति फ्रांस्वा ओलोंद ने आज एक संयुक्त बयान में कहा कि सीरिया के वायुसैन्य अड्डे पर अमेरिकी हमले के लिए पूरी तरह से जिम्मेदार सीरियाई राष्ट्रपति बशर अल असद हैं। उन्होंने कहा कि उत्तरपश्चिमी सीरिया के खान शेखुन में चार अप्रैल को रासायनिक हथियारों से नरसंहार के बाद अमेरिकी वायु हमले में कल रात सीरियाई शासन के एक सैन्य प्रतिष्ठान को नेस्तनाबूत कर दिया गया।

ट्रंप ने भी हमले की निंदा की

अमेरिका के राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ने सीरिया में संदिग्ध रासायनिक हमले को ‘‘निंदनीय’’ बताते हुए आरोप लगाया है कि इस तरह के कृत्य ओबामा प्रशासन की कमियों का परिणाम हैं। इस हमले में 58 लोगों की मौत हो गई है। ट्रंप ने मंगलवार (4 अप्रैल) को एक बयान में कहा, ‘‘महिलाओं और बच्चों सहित निर्दोष लोगों के खिलाफ सीरिया में हुआ रासायनिक हमला निंदनीय है और सभ्य दुनिया इसे नजरअंदाज नहीं कर सकती।’ उन्होंने कहा, ‘‘बशर अल-असद शासन का यह नृशंस कृत्य पिछले प्रशासन की कमियों और हिचकिचाहट का परिणाम है।’

राष्ट्रपति ने दावा किया कि अमेरिका के पूर्व राष्ट्रपति बराक ओबामा ने 2012 में कहा था कि वह रासायनिक हथियारों के इस्तेमाल के खिलाफ कदम उठाएंगे लेकिन उन्होंने कुछ नहीं किया। उन्होंने कहा कि इस तरह के हमले की निंदा करने के लिए अमेरिका दुनिया में अपने सहयोगियों के साथ खड़ा है।इससे पहले ट्रंप को राष्ट्रीय सुरक्षा दल ने कल सीरिया के खान शेखू शहर में हुए हमले की जानकारी दी। इस हमले में 58 लोगों की मौत हो गई और दर्जनों लोगों को श्वास संबंधी परेशानी, उल्टी और बेहोशी जैसी दिक्कत हुई।

देखिए वीडियो - सीरिया में हुआ केमिकल हमला; 100 से ज्यादा लोगों की मौत

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App