ताज़ा खबर
 

तीन साल के बेटे को बचाने स्विमिंग पूल में कूदा इंफोसिस का इंजीनियर, नहीं जानते थे तैरना, दोनों की मौत

पुलिस के मुताबिक सइकिल चलाने वक्त उनका बेटा अनंत स्विमिंग पूल में गिर गया, और अनंत को बचाने के लिए नागराजू भी स्विमिंग पूल में कूद पड़े। लेकिन दुख की बात ये है कि नागराजू तैराकी नहीं जानते थे ना ही वहां लाइफगार्ड मौजूद था।

Techie dead, Infosys, Andhra Pradesh Techie, Techie killed in America, Techie drowns, Techie drowns in swimming pool, Andhra Man drowns, USA, Crowd-Funding, International newsइंजीनियर नागराजू और उनके बेटे अनंत का शव भारत भेजने के लिए फंड इकट्ठा किया जा रहा है। (Photo source-gofundme.com)

अमेरिका में काम कर रहे साफ्टवेयर इंजीनियर नागराजू सुरापल्ली और उनके तीन साल के बेटे की स्विमिंग पूल में डूबकर मौत हो गई। अमेरिका से इन दोनों के शव को वापस भेजने के लिए फंड इकट्ठा किया जा रहा है। अमेरिका के मिशीगन में रह रहे इस परिवार के लिए गुजरा मंगलवार (30 मई) कहर बनकर टूटा। खबरों के मुताबिक इन दोनों का शव इनके अपार्टमेंट में मौजूद स्विमिंग पूल में पाया गया था। स्थानीय अमेरिकी मीडिया के मुताबिक स्विमिंग पूल से गुजर रहे कुछ लोगों ने स्विमिंग पूल में तैर रहे इनकी लाशों को देखा और इसके बाद पुलिस को सूचना दी। एनडीटीवी की एक रिपोर्ट के मुताबिक स्थानीय पुलिस चीफ डेविड मेलोई ने बताया कि नागराजू अपने बच्चे अनंत को लेकर स्विमिंग पूल की ओर आए थे, हालांकि इनका मकसद पूल में तैरना नहीं था और वे लोग स्विमिंग पूल के निकट बैठे हुए, मौका ए वारदात पर मिले सबूत भी यही कहते हैं, इसके साथ ही इन दोनों ने स्विमिंग की ड्रेस भी नहीं पहन रखी थी।

पुलिस के मुताबिक सइकिल चलाने वक्त उनका बेटा अनंत स्विमिंग पूल में गिर गया, और अनंत को बचाने के लिए नागराजू भी स्विमिंग पूल में कूद पड़े। लेकिन दुख की बात ये है कि नागराजू तैराकी नहीं जानते थे ना ही वहां लाइफगार्ड मौजूद था। अपने बेटे को बचाने के चक्कर में नागराजू की जान तो चली ही गई उनका बेटा भी काल का शिकार बन गया। नागराजू आंध्र प्रदेश के गुंटूर के रहने वाले हैं। उनकी मौत के बाद पत्नी बिन्दू सदमे में हैं। नागराजू और उनके बेटे के शव को वापस भारत लाने में डेढ़ लाख डॉलर का खर्च है। इस रकम का जुगाड़ करने के लिए उन्हें दोस्तों ने क्राउड फंडिग शुरू की है। दरअसल क्राउड फंडिंग एक तरह से चंदा देने का सिस्टम है। जहां लोग एक खास उद्देश्य के लिए बनाए फंड में ऑनलाइन पैसे जमा करते हैं। नागराजू के शव को भारत लाने के लिए उनके दोस्त इस फंड में योगदान दे रहे हैं।

Hindi News के लिए हमारे साथ फेसबुक, ट्विटर, लिंक्डइन, टेलीग्राम पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News AppOnline game में रुचि है तो यहां क्‍लिक कर सकते हैं।

Next Stories
1 गूगल लंदन में बना रहा नया हेडक्वार्टर, यूरोपियन यूनियन की बिल्डिंग से भी होगा बड़ा, होगा मसाज रूम, स्विमिंग पूल और गार्डन
2 ISIS के चंगुल से रिहा हुई नादिया ने कहा- लगातार रेप करते थे, हर पल लगता था इससे बेहतर जान ले लें
3 जीडीपी ग्रोथ में गिरावट: चीनी मीडिया ने ली चुटकी- नोटबंदी से लगा हाथी और ड्रेगन की रेस में भारत को झटका
ये पढ़ा क्या?
X