ताज़ा खबर
 

सीरियाई गिरजाघर प्रमुख पर इस्लामी चरमपंथियों का हमला, भारतीय-अमेरिकी ईसाइयों ने की निंदा

भारतीय ईसाइयों के बीच सीरियाई ऑर्थोडॉक्स गिरजाघर को लेकर गहरी आस्था है और पैट्रियार्क इग्नेशियस एफ्रेम द्वितीय लाखों भारतीय ईसाइयों के धार्मिक नेता रहे हैं।

Author वॉशिंगटन | June 24, 2016 1:04 PM
उत्तरी सीरिया की सीमा पर स्थित कामिशली शहर में एक ऑर्थोडॉक्स गिरजाघर के प्रमुख पर इस्लामी चरमपंथियों के फिदायी हमले

अमेरिका में भारतीय-अमेरिकी ईसाइयों ने उत्तरी सीरिया की सीमा पर स्थित कामिशली शहर में एक ऑर्थोडॉक्स गिरजाघर के प्रमुख पर इस्लामी चरमपंथियों के फिदायी हमले की कड़ी निंदा की है। ‘फेडरेशन ऑफ इंडियन अमेरिकन क्रिस्टियन ऑर्गेनाइजेशंस ऑफ नॉर्थ अमेरिका’ (एफआईएसीओएनए) ने एक बयान में सीरिया के ऑर्थोडॉक्स गिरजाघर के प्रमुख इग्नेशियस एफ्रेम द्वितीय पर 20 जून को किए हमले की कड़े शब्दों में ‘निंदा’ की।

भारतीय ईसाइयों के बीच सीरियाई ऑर्थोडॉक्स गिरजाघर को लेकर गहरी आस्था है और पैट्रियार्क इग्नेशियस एफ्रेम द्वितीय लाखों भारतीय ईसाइयों के धार्मिक नेता रहे हैं। सायफो (तलवार) नरसंहार के दौरान मारे गए लोगों की याद में आयोजित कार्यक्रम के दौरान हमले को अंजाम दिया गया, जिसकी साजिश और इसे अंजाम देने का काम इस्लामी चरमपंथियों ने किया।

ओटोमन साम्राज्य के दौरान 1915 में हजारों ईसाइयों का कत्ल कर दिया गया था, जिसे ‘सायफो नरसंहार’ की संज्ञा दी गई। हमले के दौरान पैट्रियार्क इग्नेशियस एफ्रेम द्वितीय ‘1915 सायफो नरसंहार’ की याद में आयोजित कार्यक्रम की बागडोर संभाल रहे थे। बहरहारल, हमले में पैट्रियार्क को कोई नुकसान नहीं हुआ, वह सुरक्षित वहां से बच निकले लेकिन इस फिदायी हमले में कई लोगों के मारे जाने की सूचना है।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App