ताज़ा खबर
 

वीडियो: UN में महिला IFS ने दो मिनट के भाषण में पाकिस्तान को फिर दिखाया आइना

यूएन में पाकिस्तान को भारत की ओर से एक बार फिर एक महिला अफसर ने करारा जवाब दिया है।

Author Updated: March 16, 2017 3:57 PM
भारतीय आईएफएस ऑफिसर नवनीता चक्रवर्ती (वीडियोग्रैब)

यूएन में पाकिस्तान को भारत ने करारा जवाब दिया है। यूएन में भारत का प्रतिनिधित्व कर रहीं महिला राजदूत नवनीता चक्रवर्ती ने पाकिस्तान को जबरदस्त फटकार लगाई है। उन्होंने अपने दो मिनट ते संबोधन में पाकिस्तान द्वारा आतंकवाद को पनाह देने के मुद्दे को उठाया। इसके अलावा उन्होंने पाकिस्तान में अल्पसंख्यकों की बदहाल स्थिति को लेकर भी पाकिस्तान पर जमकर निशाना साधा। युवा महिला राजदूत नवनीता 2008 बैच की अफसर हैं। उन्होंने जिनेवा में यूएन के मानवाधिकार परिषद में भारत का पक्ष रखा।

आतंकवाद के मुद्दे पर बोलते हुए उन्होंने कहा- “पाकिस्तान न सिर्फ दुनिया की आतंक की फैक्ट्री बन गया है, बल्कि यह देश अपने अल्पसंख्यकों पर भी जुल्म ढा रहा है, और अपने देश की आबादी के एक हिस्से को अलग-थलग करके रखा है” वहीं नवनीता ने पाकिस्तान में अल्पसंख्यकों की स्थिति को लेकर भी भारत का पक्ष रखा। उन्होंने कहा- “पाकिस्तान में भारत में अल्पसंख्यकों की खराब स्थिति की बात कही थी। हमारे यहां पर अल्पसंख्यक समाज से लोग प्रजिडेंट, सीनियर मिनिस्टर्स, सीनियर सिविल सर्वेंट्स, क्रिकेट कैप्टन और बॉलीवुड के सुपरस्टार्स बनते हैं। क्या अल्पसंख्यकों को ऐसे मौके पाकिस्तान में मिलते हैं? इनके(पाकिस्तान) पास अगर कुछ है तो वो सिर्फ ईशनिंदा के खिलाफ कानून और मानवाधिकारों का हनन है”

वहीं जम्मू कश्मीर में कथित मानवाधिकारों के उल्लंघन के मामले पर पाकिस्तान ने भारत को यूएन में घेरने की कोशिश की थी, जिसका करारा जवाब नवनीता ने दिया। उन्होंने तीखी प्रतिक्रिया देते हुए कहा- “एक बार फिर से पाकिस्तानी प्रतिनिधिमंडल ने मानवाधिकार परिषद का गलत इस्तेमाल करने का विचार किया है, पाकिस्तान की कोशिश की है कि, जम्मू कश्मीर के आतंरिक मामलों की बेबुनियाद और झूठे संदर्भ दुनिया के सामने रखे जाएं। जम्मू-कश्मीर में पाकिस्तान की ओर से आतंकवादियों को लगातार समर्थन, भारत के लिए अपने नागरिकों के मानवाधिकारों की रक्षा करने में मुख्य चुनौती बना हुआ है।”

देखें वीडियो

वहीं भारत ने पीओके को लेकर भी पाकिस्तान को करारा जवाब दिया। नवनीता ने कहा, “हमारे राज्य के भूभाग का एक हिस्सा अभी भी पाकिस्तान के अवैध और जबरन कब्जे में है” अतंरराष्ट्रीय मंच पर भारत की तरफ से दूसरी बार पाकिस्तान को जबरदस्त जवाब दिया गया है। इससे पहले बीते साल सितंबर महीने में भारतीय राजदूत ईनम गंभीर ने भी ऐसा ही किया था। गंभीर ने तब कहा था कि पाकिस्तान आतंक को शरण देने वाला देश है और उसकी वजह से भारत और बाकी पड़ोसी देशों को भी परेशानी होती है।

देखें ईनम गंभीर की स्पीच

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ लिंक्डइन पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

Next Stories
1 पानी से निकलती चमकदार नीली रोशनी देख आप भी सोच में पड़ जाएगे
2 Video: डिलीवरी ब्वॉय की समझदारी और जांबाजी ने बचा ली मां-बेटे की जान
3 6 मुस्लिम देशों पर बैन का आदेश रद्द होने पर कोर्ट पर ही भड़के डोनाल्ड ट्रम्प, कहा- बार बार हमारे काम में दखल दे रही है अदालत