ताज़ा खबर
 

अमेरिकी अर्थव्यवस्था में है भारतीयों का बड़ा योगदान, ट्रंप की आव्रजन नीति में दूरदृष्टि की कमी- भारतवंशी संगीतकार

भारतीय मूल के अमेरिकी संगीतकार सिद्धार्थ खोसला ने कहा कि आव्रजक अमेरिकी समाज की रीढ़ हैं और अर्थव्यवस्था में उनका काफी बड़ा योगदान है।

Author March 23, 2017 3:14 PM
डोनाल्ड ट्रंप अमेरिका के राष्ट्रपति। (फाइल फोटो) REUTERS/Jonathan Ernst

भारतीय मूल के अमेरिकी संगीतकार सिद्धार्थ खोसला ने कहा कि आव्रजक अमेरिकी समाज की रीढ़ हैं और अर्थव्यवस्था में उनका काफी बड़ा योगदान है। उन्होंने कहा कि राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप की आव्रजन नीति में दूरदृष्टि की कमी है और यह देश को पीछे ले जाएगी। संगीतकार-गायक के माता-पिता 1976 में अमेरिका आकर बसे थे। खोसला ने टीवी और फिल्म के लिए संगीत बनाते हुए खुद के लिए एक अहम जगह बना ली है ।

खोसला ने लॉस एंजेलिस से फोन पर आईएएनएस को बताया, “मेरे हिसाब से ट्रंप की नीतियां दुर्भाग्यवश बेहद पीछे ले जाने वाली हैं। अमेरिका समेत दुनिया के कई देशों की सफलता की मुख्य वजह बाहर से आए लोग हैं। मिसाल के लिए, अमेरिका को ही यूरोप, अफ्रीका, भारत व अन्य तमाम जगहों से आए लोगों ने बसाया। हमें यह भूलना नहीं चाहिए।”

जनवरी में डोनाल्ड ट्रंप ने अपने कार्यकारी आदेश के द्वारा सात मुस्लिम बहुल देशों ईरान, इराक, लीबिया, सोमालिया, सूडान, सीरिया तथा यमन के लोगों के अमेरिका में प्रवेश पर 90 दिनों के लिए प्रतिबंध लगा दिया था। लेकिन, संघीय अदालत ने इस कार्यकारी आदेश पर रोक लगा दी थी। 6 मार्च को डोनाल्ड ट्रंप ने एक दूसरा आदेश पारित किया। इसमें इराक को प्रतिबंध वाली सूची में शामिल नहीं किया गया है।

इन नीतियों के सामने आने के बाद अमेरिका में घटी हाल की नस्लीय घटनाओं पर खोसला का कहना है कि ये ज्यादा गंभीर चिंता का विषय नहीं हैं। भारतीय आव्रजकों के अमेरिका में अनुभव पर संगीत एल्बम ‘एयरोग्राम’ तैयार करने वाले खोसला ने बताया कि मुस्लिम बहुल देशों के नागरिकों पर रोक की ट्रंप की योजना के खिलाफ अमेरिकी जनता ने शानदार तरीके से विरोध जताया। पुरजोर प्रदर्शन के कारण ही डोनाल्ड ट्रंप को अपनी नीतियों में बदलाव कर नई नीति के साथ सामने आना पड़ा।

खोसला ने कहा कि डोनाल्ड ट्रंप भले राष्ट्रपति हों लेकिन वह एक व्यक्ति ही हैं। देश में नीतियां वही लागू रह सकती हैं जो संवैधानिक होंगी। गायक मोहम्मद रफी और किशोर कुमार को बेहद पसंद करने वाले खोसला ने कहा कि वह गीत-संगीत की जरूरत के आधार पर भारतीय कलाकारों के साथ काम करने के लिए तैयार हैं।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App