ताज़ा खबर
 

भारतीय मीडिया चीन के ख़िलाफ़ नकारात्मक भावनाओं को भड़का रहा है: अखबार

समाचार पत्र ‘ग्लोबल टाइम्स’ ने कहा कि चीन के विदेश मंत्री वांग यी ने शुक्रवार (12 अगस्त) को भारत का दौरा किया।

Author बीजिंग | August 15, 2016 11:12 PM
नई दिल्ली में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से मिलते चीन के विदेश मंत्री वांग यी। (पीटीआई फाइल फोटो)

चीन के एक सरकारी अखबार ने द्विपक्षीय संबंधों में ‘मतभेदों’ को तवज्जो देकर बीजिंग के खिलाफ नकारात्मक भावनाएं ‘भड़काने’ के लिए भारतीय मीडिया को जिम्मेदार ठहराते हुए सोमवार (15 अगस्त) को कहा कि दोनों पक्षों के मीडिया को दोनों देशों के बीच दूरी पैदा करने के पश्चिम के प्रयासों को लेकर चौकस रहना चाहिए। समाचार पत्र ‘ग्लोबल टाइम्स’ ने कहा कि चीन के विदेश मंत्री वांग यी ने शुक्रवार (12 अगस्त) को भारत का दौरा किया। इस दौरान कई मीडिया समूहों की रिपोर्टिंग आगामी जी-20 और ब्रिक्स शिखर सम्मेलनों को लेकर दोनों के बीच सहयोग पर केंद्रित रही।

अखबार ने अपने एक संपादकीय में कहा, ‘बहरहाल, कुछ भारतीय मीडिया समूहों ने दूसरी तरह से कवर किया और ‘चीन ने भारत के एनएसजी के प्रयास को रोका, लेकिन अब दक्षिण चीन सागर पर मदद का इच्छुक’ जैसे शीर्षक दिए।’ उसने कहा, ‘भारतीय मीडिया की ओर से लंबे समय से भारत-चीन संबंधों को लेकर नकारात्मक हौवा खड़ा किए जाने को देखते हुए यह कल्पना करना कठिन नहीं है कि उन्होंने हमेशा की तरह फिर ऐसा किया। उन्होंने अपनी हमेशा की इच्छा के अनुसार लोगों का ध्यान खींचा, लेकिन साथ ही चीन के बारे में भारतीय लोगों के विचारों में नकारात्मकता पैदा की।’इस लेख में द्विपक्षीय मुद्दों का समाधान करने के लिए दोनों सरकारों की ओर से किए जा रहे प्रयासों की सराहना भी की गई है।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App