ताज़ा खबर
 

भारतीय मूल के दंपत्ति ने बैंक पर किया 72 अरब का केस, ऑस्ट्रेलियाई के कानूनी इतिहास का सबसे बड़ा मुकदमा

ओसवाल दंपत्ति ने आरोप लगाया कि ऑस्ट्रेलिया एंड न्यूजीलैंड बैंकिंग समूह (एएनजैड) और रिसीवर पीपीबी ने उनके इस उर्वरक कारोबार के शेयरों की कीमत डेढ़ अरब डॉलर कम आंकी।

मेलबर्न | May 30, 2016 4:24 PM
चित्र का इस्तेमाल सिर्फ प्रस्तुतिकरण के लिए किया गया है।

एक हाई-प्रोफाइल भारतीय मूल के दंपत्ति ने सोमवार (30 मई) को ऑस्ट्रेलिया के एएनजी बैंक पर डेढ़ अरब डॉलर का मुकदमा दायर किया। ऑस्ट्रेलिया के कानूनी इतिहास में यह सबसे बड़े मुकदमों में से एक है। विक्टोरिया के सुप्रीम कोर्ट में मामला दर्ज कराने वाली दंपत्ति पंकज एवं राधिका ओसवाल का आरोप है कि एएनजैड बैंक ने करोड़ों के कर्ज की वापसी के लिए उनकी उर्वरक कंपनी के शेयरों का मूल्य कथित तौर पर कम आंका।

विक्टोरिया के कानूनी इतिहास के सबसे बड़े मामलों में से एक यह मामला पश्चिमी ऑस्ट्रेलिया स्थित ओसवाल की कंपनी बुर्रुप फर्टिलाइजर्स की मजबूरन बिक्री से जुड़ा हुआ है जिसे 2010 में रिसीवरों ने जब्त कर दिया था। ओसवाल दंपत्ति ने आरोप लगाया कि ऑस्ट्रेलिया एंड न्यूजीलैंड बैंकिंग समूह (एएनजैड) और रिसीवर पीपीबी ने उनके इस उर्वरक कारोबार के शेयरों की कीमत डेढ़ अरब डॉलर कम आंकी।

Next Stories
1 बच्‍चे को बचाने के लिए गोरिल्‍ला को गोली मारी तो हुआ विरोध, लोगों ने मां-बाप को ठहराया दोषी
2 विकास के लिए अमेरिका के अगले राष्‍ट्रपति को मोदी से लेनी चाहिए सीख: अमेरिकी कारोबारी
3 Social Media पर क्रिश्चियन लड़कियां हो रहीं शर्मसार, ISIS के आतंकी बना रहे Sex Slaves का शिकार
ये पढ़ा क्या?
X