ताज़ा खबर
 

ऑस्ट्रेलिया में भारतीय पर नस्लीय हमला, महिला ने कहे अपशब्द, पार्टनर ने लात-घूंसों से पीटा

ड्राइवर के बार-बार कहने के बाद भी महिला ने अपनी हरकत जारी रखी और गाड़ी का दरवाजा खोल दिया। इसके बाद गाड़ी में बैठे कपल ने ड्राइवर को अपशब्द कहे और नस्लीय टिप्पणी करना शुरू कर दिया।

ऑस्ट्रेलिया में भारतीय पर नस्लीय हमले का मामला आया सामने। (ANI Photo/Twitter)

ऑस्ट्रेलिया में एक भारतीय नस्लीय हमले का शिकार हुआ। पेशे से कैब ड्राइवर भारतीय इस हमले में घायल हो गया है और इलाज के लिए उसे अस्पताल में भर्ती कराया गया। यह घटना शुक्रवार को ऑस्ट्रेलिया के तस्मानिया के सैंडी बे में घटी। एएनआई से बातचीत में ड्राइवर ने अपनी आपबीती सुनाई। हालांकि, कानूनी कार्यवाही के कारण पीड़ित ड्राइवर ने अपने नाम का खुलासा नहीं किया है। ड्राइवर ने बताया कि शुक्रवार रात को 10.30 बजे के करीब उसने एक कपल को गाड़ी में बैठाया और मैक-डोनाल्डस ड्राइव-थ्रू लेकर जाने लगा। इस दौरान महिला पैसेंजर ने गाड़ी का दरवाजा खोल दिया। ड्राइवर ने जब ऐसा करने से मना किया तो वह नाराज हो गई। ड्राइवर ने दुर्घटना से बचने के लिए उसे यह सलाह दी थी। लेकिन ड्राइवर के बार-बार कहने पर भी वह नहीं मानी।

ड्राइवर के बार-बार कहने के बाद भी महिला ने अपनी हरकत जारी रखी और गाड़ी का दरवाजा खोल दिया। इसके बाद गाड़ी में बैठे कपल ने ड्राइवर को अपशब्द कहे और नस्लीय टिप्पणी करना शुरू कर दिया। ड्राइवर ने कहा कि टैक्सी से उतरने के बाद कपल गाड़ी पर लात मारने लगा और नस्लीय कमेंट्स करने लगा। महिला पैसेंजर ने ड्राइवर को ‘ब्लडी इंडियन’ कहा और उसके साथ हिंसा की। ड्राइवर ने बताया कि इस दौरान महिला के साथ मौजूद पुरुष यात्री ने घूसा मारा और जमीन पर गिरा दिया। कथित तौर पर पुरुष यात्री द्वारा ड्राइवर को जमीन पर गिराने के बाद लात-घूसों से पीटा गया। हमलावर ने मारपीट करते हुए कहा, “You f****** Indian, you deserve it (…, तुम इसी लायक हो)।”

ड्राइवर ने बताया कि इस दौरान कुछ लोगों ने उसे बचाया। जिसके बाद पुलिस और एंबुलेंस मौके पर पहुंची। इलाज के लिए उसे अस्पताल में भर्ती कराया गया। पीड़ित ने आरोप लगाया कि पुलिस ने इस मामले को गंभीरता से नहीं लेते हुए केस नहीं दर्ज किया है और न ही सीसीटीवी फुटेज निकाला गया। ड्राइवर की ओर से प्रत्यक्षदर्शी पुलिस के सामने आया और इस घटना का वीडियो फुटेज पुलिस को सौंपा।

 

 

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ लिंक्डइन पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App