ताज़ा खबर
 

ब्रिटेन में सुर्खियां बटोर रही भारतीय अरबपति की बेटी, पढ़ाई के लिए गई पर रहने के लिए महल, सेवा में 12 लोगों का स्टाफ!

जानकारी के मुताबिक यह अरबपति परिवार यह चाहता था कि उनकी बेटी की सेवा के लिए तजुर्बेकार नौकरों को ही रखा जाए। इसलिए परिवार ने नौकर के लिए जो विज्ञापन दिए उसमें 'खुशमिजाज, ऊर्जा से भरपूर और आत्मविश्वास से भरे हुए' की जरूरत लिखा गया।

प्रतीकात्मक तस्वीर

लंदन में एक अरबपति भारतीय परिवार की बेटी की खूब चर्चा हो रही है। इस परिवार ने ब्रिटेन में अपनी बेटी की देखभाल के लिए 12 स्टाफ को नियुक्त करने का फैसला किया है। हालांकि यह अरबपति भारतीय कौन हैं या फिर उनका नाम क्या है? इसके बारे में पता नहीं चल सका है लेकिन लंदन में उन्होंने अपनी बेटी के रहने के लिए आलीशान महल भी लिया है। उनकी बेटी चार साल के लिए स्कॉटलैंड स्थित St Andews University में पढ़ने के लिए आई है। महल में जिन बारह नौकरों को काम पर रखा गया है उनमें नौकरानी, खानसमां, हाउसकीपर, माली, निजी शेफ, ड्राइवर इत्यादी शामिल हैं।

जानकारी के मुताबिक यह अरबपति परिवार यह चाहता था कि उनकी बेटी की सेवा के लिए तजुर्बेकार नौकरों को ही रखा जाए। इसलिए परिवार ने नौकर के लिए जो विज्ञापन दिए उसमें ‘खुशमिजाज, ऊर्जा से भरपूर और आत्मविश्वास से भरे हुए’ की जरूरत लिखा गया। माना जा रहा है कि किसी भारतीय स्टूडेंट का पढ़ाई के लिए इतना खर्चीला रहन-सहन अब तक का पहला उदाहरण है। इसके साथ ही पर्सनल स्टाफ के लिए काम की जो सूची है, उनमें जरूरत के वक्त दरवाजा खोलना, दूसरे स्टाफ के साथ रूटीन शिड्यूल बनाना, वॉर्डरोब मैनेजमेंट और पर्सनल शॉपिंग भी शामिल है।

खानसामा इस पूरी टीम को लीड कर रहे हैं। खाने के टेबल पर खाने लगाने और टेबल की साफ-सफाई के लिए भी अलग से नौकर रखे गए हैं। मीडिया रिपोर्ट्स में दावा किया जा रहा है कि जरूरत के वक्त हमेशा दरवाजा खोलने के लिए तैयार स्टाफ की सैलरी लगभग 30,000 पाउंड प्रतिवर्ष है। परिवार का इस शाही खर्चे को लेकर मानना है कि बहुत अधिक संभ्रांत परिवेश से आने के कारण वह बेटी की पढ़ाई में किसी तरह की कोताही नहीं करना चाहते हैं।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App