ताज़ा खबर
 

हमलों पर नाइजीरियाई सरकार ने कहा- दोनों देशों के रिश्ते बने रहें इसलिए जरूरी है ऐसी घटनाएं ना हों

नाइजीरिया की सरकार ने हमले के दोषियों की गिरफ्तार और तुरंत मुकदमा की मांग की

ग्रेटर नोएडा में हमले का शिकार हुआ नाइजीरिया का एक मूल निवासी। (Express photo)

नाइजीरियाई मीडिया के मुताबिक, ग्रेटर नोएडा में नाइजीरियन छात्रा पर कथित हमले के बाद नाइजीरियाई सरकार ने भारतीय राजदूत बी नागभूषण रेड्डी को समन भेजा है। यह रिपोर्ट नाइजीरिया की न्यूज एजेंसी की ओर से जारी की गई है। नाइजीरिया की सरकार ने कहा कि आगे इस तरह की घटनाएं ना हों इसके लिए जरूरी है कि जो भी इस हमले के लिए जिम्मेदार है उन्हें गिरफ्तार किया जाए और तुरंत मुकदमा चलाया जाए।

न्यूज एजेंसी के मुताबिक, नाइजीरिया में विदेश मामलों के मंत्रालय के स्थायी सचिव ओलुशोला एनिकानोलैये ने भारतीय दूत से बात की और भारत में रह रहे नाइजीरियन लोगों की सुरक्षा को लेकर चिंता जाहिर की। एजेंसी के मुताबिक एनिकानोलैये ने कहा, “दोनों देशों के रिश्ते बने रहने के लिए जरूरी है कि आगे ऐसा ना हो। दोनों देशों में बहुत समानताएं हैं और अच्छी दोस्ती भी है।”

बता दें कि बीते शनिवार (25 मार्च) ग्रेटर नोएडा में 12वीं कक्षा के छात्र मनीष खरी की रहस्यमय हालात में हुई मृत्यु हो गई थी। वह एक रात पहले से लापता था। मनीष के परिजनों ने पास में रह रहे नाइजीरियाई छात्रों पर उसे नशा देकर हत्या करने का आरोप लगाया। मनीष के परिजनों ने नाइजीरियाई छात्रों के खिलाफ हत्या के मामले को लेकर एफआईआर भी दर्ज कराई। इसके बाद विवाद पैदा हो गया और नाइजीरियाई छात्रों से मारपीट की घटनाएं सामने आईं।

स्थानीय लोगों ने (27 मार्च) को इलाके में एक मार्च निकाला था, जो हिंसा में तब्दील हो गया। पुलिस के कहा था कि मार्च निकालने के दौरान इलाके में मौजूद एक शौपिंग एरिया में मौजूद कुछ नाइजीरियाई छात्रों पर लोगों ने हमला कर दिया। पुलिस ने इस मामले में तकरीबन 600 लोगों के खिलाफ दंगा भड़काने और 44 लोगों पर हत्या की कोशिश का केस भी दर्ज किया है।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ लिंक्डइन पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

Next Stories
1 डोनाल्ड ट्रंप के ट्रेवल बैन को अमेरिकी कोर्ट ने बताया मुस्लिमों के खिलाफ, कहा- इससे अर्थव्‍यवस्‍था को नुकसान
2 डोनाल्ड ट्रंप की बेटी इवांका ट्रंप होंगी व्हाइट हाउस में सलाहकार, नहीं लेंगी कोई वेतन
3 पाकिस्तान को अलग-थलग करने की भारत की कोशिश से संबंधों की संभावना में बाधा खड़ी होती है:अमेरिका
ये पढ़ा क्या?
X