ताज़ा खबर
 

भारत को मिली यह बड़ी कामयाबी, लेकिन बस चीन से रह गया पीछे

उच्च कोटि के वैज्ञानिक शोधों में अपने योगदान में सर्वाधिक वृद्धि के साथ विभिन्न देशों के बीच भारत दूसरे स्थान पर पहुंच गया है।
Author October 11, 2016 20:23 pm
प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और चीन के राष्ट्रपति शी जिनपिंग (प्रतिकात्मक तस्वीर)

उच्च कोटि के वैज्ञानिक शोधों में अपने योगदान में सर्वाधिक वृद्धि के साथ विभिन्न देशों के बीच भारत दूसरे स्थान पर पहुंच गया है। एक नई रिपोर्ट में कहा गया है कि देश शोध में प्रगति के मामले में केवल चीन से ही पीछे हैं। दुनिया में शीर्ष 100 उच्च प्रदर्शन करने वाले भारत के संस्थानों में वैज्ञानिक तथा औद्योगिक अनुसंधान परिषद (सीएसआईआर), भारतीय विज्ञान शिक्षा एवं अनुसंधान संस्थान (आईआईएसईआर), टाटा इंस्टीट्यूट ऑफ फंडामेंटल रिसर्च (टीआईएफआर), भारतीय विज्ञान संस्थान (आईआईएस) और भारतीय प्रौद्योगिकी संस्थान (आईआईटी) का नाम है । नेचर इंडेक्स 2016 राइजिंग स्टार्स रिपोर्ट के मुताबिक भारत ने जहां अपनी छाप छोड़ी है वहीं चीनी संस्थान दुनिया में तेजी से उच्च गुणवत्ता के शोध नतीजे दे रहे हैं।
बेहतरीन प्रदर्शन करने वाले शीर्ष 100 में से 40 चीन के संस्थान है जिनमें से 24 ने 2012 के बाद से 50 प्रतिशत से अधिक वृद्धि प्रदर्शित की है। उच्च श्रेणी के कुल वैज्ञानिक पर्चों के मामले में अमेरिका सर्वाधिक योगदान देने वाला देश बना हुआ है। शीर्ष 100 में उसकी 11 प्रविष्ठियां हैं। ब्रिटेन के नौ, जर्मनी के आठ और भारत के पांच संस्थान इस कतार में हैं। राइजिंग स्टार ने नेचर इंडेक्स का इस्तेमाल किया, जिसने 68 जर्नल्स में छपे 8000 से अधिक वैश्विक संस्थानों के शोध लेखकों के शोध लेख को शामिल किया है।

वीडियो: भारत-न्यूज़ीलैंड टेस्ट सीरीज़: भारत ने न्यूज़ीलैंड को 321 रनों से हराकर 3-0 से सीरीज़ जीती

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

  1. No Comments.