ताज़ा खबर
 

राजन को लाने में नहीं कोई मुश्किल: भारत

भारत ने उम्मीद जताई है कि छोटा राजन को इंडोनेशिया से वापस लाने में कोई दिक्कत नहीं होगी, क्योंकि उसे इंटरपोल की ओर से जारी रेड कार्नर नोटिस पर गिरफ्तार किया गया है..

Author जकार्त | October 28, 2015 1:05 AM
भारत के सबसे वांछित अपराधियों में एक अंडरवर्ल्ड डॉन छोटा राजन को इंडोनेशिया पुलिस ने इंटरपोल के रेडकार्नर नोटिस के आधार पर बाली में गिरफ्तार कर किया गया। (Source: NCB-Interpol Indonesia)

भारत ने उम्मीद जताई है कि छोटा राजन को इंडोनेशिया से वापस लाने में कोई दिक्कत नहीं होगी, क्योंकि उसे इंटरपोल की ओर से जारी रेड कार्नर नोटिस पर गिरफ्तार किया गया है।

इंडोनेशिया में भारत के राजदूत गुरजीत सिंह ने कहा-‘यह कोई साधारण गिरफ्तारी नहीं है। यह रेड कॉर्नर नोटिस पर किसी व्यक्ति की गिरफ्तारी है जिसके लिए विभिन्न प्रोटोकॉल काम करते हैं।’ उन्होंने एक भारतीय समाचार चैनल से कहा- इसी कारण से मैं आपसे कह रहा हूं कि आपको प्रत्यर्पण के बारे में अधिक बात करने की जरूरत नहीं हैं क्योंकि जब इंटरपोल से रेड कॉर्नर नोटिस जारी किया जाता है तब स्थिति अलग होती है और चूंकि हमारा इंडोनेशिया के साथ एक अच्छा संबंध है, इसलिए हमे नहीं लगता कि कोई समस्या सामने आएगी क्योंकि उन्होंने हमसे स्पष्ट तौर पर कहा है कि इस व्यक्ति को हमारे अनुरोध पर गिरफ्तार किया गया है।

राजन को भारत लाने के बारे में पूछे जाने पर भारतीय राजदूत ने कहा-‘हमारे बीच न केवल एक प्रत्यर्पण संधि है, बल्कि हमारे बीच एक परस्पर विधि सहायता संधि है और दोनों संधि लागू हैं। हम उम्मीद करते हैं यह इस मामले में और किसी अन्य मामले में उपलब्ध होगा।’

HOT DEALS
  • Micromax Dual 4 E4816 Grey
    ₹ 11978 MRP ₹ 19999 -40%
    ₹1198 Cashback
  • Moto Z2 Play 64 GB Fine Gold
    ₹ 15750 MRP ₹ 29499 -47%
    ₹2300 Cashback

उन्होंने कहा-‘मैं यह भी स्पष्ट करना चाहता हूं कि मात्र यही उपाय नहीं हैं। पूर्व में हम अपने उद्देश्यों को पूरा करने के लिए इन संधियों से भी आगे गए हैं। इसलिए हम नहीं मानते कि यह किसी विधि दस्तावेज की गैर मौजूदगी या मौजूदगी से जुड़ा है। मैं इस बिंदु पर जोर देना चाहूंगा कि भारत और इंडोनेशिया के बीच बहुत गर्मजोशी भरा संबंध है। यह बहुमुखी और गहरा है।’

मुंबई पुलिस के अनुरोध पर सीबीआइ ने इंटरपोल से मदद मांगी थी जिसने राजन के खिलाफ एक जुलाई 1995 को एक रेड कॉर्नर नोटिस जारी किया था।

लगातार ब्रेकिंग न्‍यूज, अपडेट्स, एनालिसिस, ब्‍लॉग पढ़ने के लिए आप हमारा फेसबुक पेज लाइक करेंगूगल प्लस पर हमसे जुड़ें  और ट्विटर पर भी हमें फॉलो करें

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App