ताज़ा खबर
 

नासा ने कहा, भारत से पाकिस्तान जा रहा है जहरीला धुआं, लाखों लोग खतरे में- रिपोर्ट

पाकिस्तान पंजाब के कुछ हिस्सों और लाहौर में स्मॉग फैला हुआ है।
दिल्‍ली में 31 अक्‍टूबर को पार्टिकुलेट मैटर यानि पीएम 2.5 का स्‍तर 500 दर्ज किया गया। (Express Photo:Tashi Tobgyal)

पाकिस्तान के लाहौर और पंजाब के कुछ हिस्सों में भी दिल्ली की तरह ही स्मॉग फैला हुआ है। पंजाब के अखबार पाकिस्तान डेली ने अपनी रिपोर्ट में नासा के हवाला से लिखा है कि यह जहरीला धुआं भारत की ओर से आ रहा है। रिपोर्ट में कहा गया है कि नासा के अनुमान के मुताबिक पाकिस्तान में जो स्मॉग फैला हुआ है, वह विषाक्त धुंध भारत के पंजाब से पाकिस्तान के पंजाब में पहुंच रहा है। इससे लाखों लोगों की जिंदगी पर खतरा बना हुआ है। पहले अनुमान लगाया गया था कि यह स्मॉग पाकिस्तान में वाहनों से निकलने वाले धुएं और औद्योगिक उत्सर्जन की वजह से ही फैल रहा है। लेकिन अब बताया जा रहा है कि यह स्मॉग भारतसे पाकिस्तान पहुंच रहा है। रिपोर्ट में बताया गया है कि पहले भी कुछ विशेषज्ञों ने इसकी आशंका जताई थी कि यह जहरीला धुआं भारतीय किसानों द्वारा अपने खेतों में लगाई गई आग की वजह से है। भारत के पंजाब और हरियाणा के किसान फसल काटने के बाद अपने खेतों में आग काफी वक्त से लगाते आ रहे हैं।

वीडियो में देखें- स्मॉग से ढक गया ताजमहल

इसके अलावा रिपोर्ट में दिवाली पर पटाखे फोड़े जाने का भी जिक्र किया गया है। रिपोर्ट में कहा गया है कि दिवाली पर पटाखे फोड़े जाने पर भी वायु प्रदूषण में बढ़ोतरी हुई है। साथ ही कहा है कि नासा ने एक तस्वीर जारी की है, जिसमें बताया गया है कि भारत के पंजाब और हरियाणा में फसलों के जलाया जाना पाकिस्तान में प्रदूषण की अहम वजह हो सकती है। लाहौर और पाकिस्तानी पंजाब के उतरी और मध्य क्षेत्र में स्मॉग की एक परत जमी हुई है। इसके साथ ही सूरज बिल्कुल भी नजर आ रहा है। पूरे आसमान में धूंध फैली हुई है। सड़कों पर वाहनों को रोक दिया गया है और फ्लाइटों को कैंसिल कर दिया जाएगा या फिर देरी से चल रही हैं। पंजाब में स्मॉग की वजह से कई सड़क हादसे भी हो गए। रिपोर्ट में पंजाब यूनिवर्सिटी की पर्यावरण कॉलेज के प्रिंसिपल डॉ. साजिद राशीद के हवाले से लिखा गया है कि हवा में धुआं का स्तर बढ़ने के पीछे भारतीय पंजाब में फसलों को जलाए जाना है।

बता दें, भारत की राजधानी दिल्ली और इसके आसपास के क्षेत्रों में भी हालात काफी खराब बने हुए हैं। यहां दृश्यता काफी कम है। इसके साथ ही लोगों का सांस लेना मुश्किल हो रहा है। यहां वायु प्रदूषण अलार्मिंट लेवल के पास पहुंच गया है। आसमान में कई जहरीला धुंध जमी हुई है।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

  1. No Comments.