ताज़ा खबर
 

मसूद अजहर पर चीन से मिली कूटनीतिक मात का भारत ने लिया बदला, उइगर नेता को दिया वीजा

विश्‍व उइगर कांग्रेस के नेता डोल्‍कन इसा को भारत द्वारा वीजा दिए जाने पर चीन ने आपत्ति जताई है। चीन ने कहा कि इसा आतंकी है और उनके खिलाफ इंटरपोल ने रेड कॉर्नर नोटिस भी जारी किया है।

Updated: April 23, 2016 10:37 AM
उइगर नेता डोल्‍कन इसा। (Photo source: Twitter)

विश्‍व उइगर कांग्रेस के नेता डोल्‍कन इसा को भारत द्वारा वीजा दिए जाने पर चीन ने आपत्ति जताई है। चीन ने कहा कि इसा आतंकी है और उनके खिलाफ इंटरपोल ने रेड कॉर्नर नोटिस भी जारी किया है। यह सभी देशों की जिम्‍मेदारी है कि उसे पकड़ा जाए। चीन के विदेश मंत्रालय के प्रवक्‍ता हुआ चुनयिंग ने बताया,’उन्‍हें इस बारे में (इसा की भारत यात्रा) जानकारी नहीं है। डोल्‍कन इंटरपोल और चीनी पुलिस के अनुसार आतंकी है।’

डोल्‍कन इसा और विश्‍व उइगर कांग्रेस के अन्‍य नेताओं को भारत ने दलाई लामा से मिलने की इजाजत दी है। भारत के इस कदम को चीन द्वारा जैश ए मुहम्‍मद के चीफ अजहर मसूद पर प्रतिबंध लगाने के खिलाफ एतराज जताने के जवाब के रूप में देखा जा रहा है। चीन का मानना है कि उइगर नेता मुस्लिम बहुल शिजियांग प्रांत में आतंकवाद को बढ़ावा देते हैं। बता दें कि शिजियांग में उइगर मुसलमानों की आबादी एक करोड़ है। कई सालों से अलग अलग मांगों को लेकर उइगर मुसलमान प्रदर्शन कर रहे हैं।

डोल्‍कन इसा धर्मशाला में 28 अप्रैल से एक मई तक चलने वालीे कांफ्रेंस में शामिल होंगे। इसमें चीन से निर्वासित नेता शामिल होंगे। इसे अमेरिका की सिटीजन पावर ऑफ चाइना नाम का संगठन आयोजित कर रहा है। इसके मुखिया यांग जियानली हैं जो थियानमन चौक पर हुए आंदोलन में भी शामिल थे।

Next Stories
1 ओमान में भारतीय नर्स की चाकू से गोदकर हत्‍या
2 भारत से बात करने के लिए पाकिस्तान तैयार : जकारिया
3 मसूद अजहर के मुद्दे पर एनएसए अजीत डोभाल की चीन से गहन चर्चा
यह पढ़ा क्या?
X