ताज़ा खबर
 

कराची में इमरान खान ने की बड़ी रैली, दोहराई नवाज शरीफ के इस्तीफे की मांग

कराची। पाकिस्तान तहरीक ए इंसाफ पार्टी (पीटीआइ) के नेता इमरान खान की रविवार को यहां हुई सरकार विरोधी रैली में हजारों लोग शामिल हुए। रैली में इमरान ने एक महीने से ज्यादा समय से देश में चल रहे राजनीतिक गतिरोध को दूर करने के लिए प्रधानमंत्री नवाज शरीफ के इस्तीफे की और नए चुनाव कराने […]

Author September 22, 2014 11:09 AM

कराची। पाकिस्तान तहरीक ए इंसाफ पार्टी (पीटीआइ) के नेता इमरान खान की रविवार को यहां हुई सरकार विरोधी रैली में हजारों लोग शामिल हुए। रैली में इमरान ने एक महीने से ज्यादा समय से देश में चल रहे राजनीतिक गतिरोध को दूर करने के लिए प्रधानमंत्री नवाज शरीफ के इस्तीफे की और नए चुनाव कराने की अपनी मांग दोहराई।
कायद ए आजम के मकबरे के सामने हुई इस रैली में महिलाएं, युवा और बच्चों सहित खासी भीड़ उमड़ी थी। पीटीआइ के एक नेता आरिफ अल्वी ने दावा किया कि रैली में करीब डेढ़ लाख लोग शामिल हुए। लेकिन स्वतंत्र पर्यवेक्षकों ने यह संख्या 70 हजार से 80 हजार के आसपास बताई।
इमरान की पार्टी ने यह रैली पाकिस्तान के सबसे बड़े शहर में की जो पिछले दो दशकों से मुत्ताहिदा कौमी मूवमेंट (एमक्यूएम) का गढ़ रहा है।
इस्लामाबाद में पिछले 31 दिन तक शरीफ विरोधी आंदोलन चलाने वाले इमरान कराची रैली में उमड़ी भीड़ को देख कर खुश थे। उनके पूरे भाषण के दौरान रह रह कर तालियां बजती रहीं, इमरान समर्थक नारे लगे और सरकार विरोधी लोकप्रिय स्लोगन ‘गो नवाज, गो’ भी खूब गूंजा।
इमरान ने कहा- मैं अल्लाह का शुक्रगुजार हूं कि देश जाग गया है। हम क्रूरता के आगे नहीं झुकेंगे। उन्होंने कहा कि हम सभी समुदायों को एकजुट करने और क्रूरता की उन बेड़ियों को तोड़ने के लिए कराची आए हैं जिन्होंने लोगों को विभाजित कर रखा है।
रैली में मौजूद पार्टी के वरिष्ठ नेताओं में इमरान के क्रिकेट जगत के पुराने सहयोगी जावेद मियांदाद और मोहसिन खान तो थे ही, साथ ही अन्य प्रमुख खिलाड़ी और जानी-मानी हस्तियां भी इसमें शामिल थीं। इससे उनकी पार्टी के प्रति बढ़ते समर्थन का संकेत मिलता है।
इमरान ने कहा कि अगर पाकिस्तान में भ्रष्ट राजनीतिक व्यवस्था बदलनी है तो जनता को उन्हें पूरी तरह समर्थन देना होगा। उन्होंने कहा-‘हम यहां दबे कुचले हुए लोगों के लिए लड़ने की खातिर व भ्रष्टाचार, कुनबा परस्ती और पक्षपात को खत्म करने के लिए इकट्ठे हुए हैं। कराची में हिंसा और लक्षित हत्याओं का जिक्र करते हुए इमरान ने कहा कि उन्हें इस बात पर कोई संदेह नहीं है कि सरकार में बैठे लोग इन आपराधिक तत्वों का समर्थन कर रहे हैं। उन्होंने कहा-‘हमें इन लक्षित हत्याओं पर रोक लगाने में केवल एक महीना लगेगा।’
पीटीआइ नेता असद उमर ने कहा कि समय आ गया है कि शरीफ जाएं। उन्होंने कहा कि वह मंत्रिमंडल के किसी भी सदस्य को चुनौती देते हैं कि वह रैली में आए समर्थकों की संख्या गिन कर बताएं।
इमरान चार्टर्ड विमान से कराची हवाईअड्डे पहुंचे थे जहां बड़ी संख्या में मौजूद उनके समर्थकों ने उनका स्वागत किया।

Next Stories
1 सत्ता समझौते के साथ ही अफगानिस्तान में संकट खत्म: अशरफ गनी बने राष्ट्रपति
2 इराक: विस्फोटों में 16 लोगों की मौत
3 ऑस्ट्रेलिया ने पर्ल में मुंबई जैसे हमले की साजिश का किया परदाफाश
ये पढ़ा क्या?
X