ताज़ा खबर
 

Video: इमरान खान ने पाक पीएम को कहा बुजदिल और मोदी को दी चेतावनी, हर पाकिस्तानी को न समझें नवाज शरीफ

Pakistan Tehreek-e-Insaf के चैयरमेन और पूर्व क्रिकेटर इमरान खान ने शरीफ और उनके खानदान पर भ्रष्टाचार का आरोप लगाया। इमरान खान ने उनकी बेटी मरियम बीबी के खिलाफ खुलकर भाषणवाजी की।

Author मुंबई | October 1, 2016 6:49 AM

Pakistan Tehreek-e-Insaf के चैयरमेन और पूर्व क्रिकेटर इमरान खान ने शरीफ और उनके खानदान पर भ्रष्टाचार का आरोप लगाया। इमरान खान ने उनकी बेटी मरियम बीबी के खिलाफ खुलकर भाषणवाजी की। उन्होंने कहा कि मरियम नवाज़ के पास नहीं फ्लैट खरीदने के लिए पैसा नहीं थे…जो नवाज शरीफ की डिंपेंडट हैं, जिसका मतलब है कि मरियम अपने बाप के पैसे पर राज कर रही हैं। बकौल इरफान शरीफ ने 4 कानून तोड़े हैं कहा सुन लो सभी पाकिस्तानियों। नवाज ने क्यों नहीं बताया कि उनके पास किधर से पैसा आया। इसका मतलब आपके पास चोरी का पैसा था। उन्होंने कहा कि मनी लॉड्रिंग और करप्शन के जरिए शरीफ के पास आया। उन्होंने शरीफ को एक डाकू कहा। कहा कि उसे शिकस्त देनी है। कहा कि अब शरीफ के खिलाफ कोई जलसा नहीं होती। इमरान ने पनामा पेपर का खुलासा करते हुए कहा- भ्रष्ट पीएम शरीफ को अब और वक्त नहीं दिया जाएगा अब आवाज उठानी ही होगी।

इमरान ने कहा कानून के लोग 2-2 चार-चार लाख रुपए की चोरी करने वालों को पकड़ते हैं लेकिन रहीशों को नहीं पकड़ते हैं। उन्होंने सुप्रीम कोर्ट से पूछा कि आखिर ऐसे लोगों से क्यों नहीं पूछते कि कहां से आता इतना पैसा। कहा कॉम इंसाफ चाहती है…आज तक सिर्फ गरीब आदमी पकड़े जाते हैं और शरीफ जैसे लोगों से कोई सवाल नहीं किया जाता। इरफान ने शरीफ खानदान के भ्रष्टचार से संबंधित स्टेटमेंट के बारे में जिक्र करते हुए कहा कि मरियम बीबी और उनके पिता शरीफ पर जमकर हमला बोला। उन्होंने पाकिस्तान की आवाम को संबोधित करते हुए कहा कि मैं ये सब पाकिस्तान का पीएम नहीं बनने के लिए बता रहा हूं, लेकिन जब भी भ्रष्टाचार होगा तो मैं हमेशा आवाज उठाता रहूंगा।

इमरान ने कुरान का जिक्र करते हुए कहा कि कुरान में अल्लाह कहता है मैंने तुम्हे किसी मकसद के लिए यहां भेजा। इरफान का कहना है कि अल्लाह कहता है कि मेरी जमीन पर इंसाफ करो। अल्लाह कहता है कि जब तुम जुल्म और नाइंसाफी देखो तो जालिम का डटकर मुकाबला करो। उन्होंने कहा कि मुझे अल्लाह ने इतना दिया कि मैं जिंदगी भर कुछ न करू तो भी खुश रहूंगा, लिहाजा अब इतना किया कि मैं दूसरी की सहाता करूंगा। इमरान के मुताबिक पाक के 45 फीसदी लोगों के बच्चों को खाना न मिलने से दिमाग का विकास नहीं होता और ढाई करोड़ बच्चे स्कूल से बाहर है।  क्योंकि यहां की सरकार भ्रष्ट है, जो जनता के पैसों पर ऐश करती है। यही वजह है कि पाकिस्तान श्रीलंका, हिंदुस्तान जैसे कई देशों से पीछे है।क्योंकि यहां के मगरमच्छ बाहर पैसा ले जाते हैं। उन्होंने कहा  कि पाकिस्तानी का पीएम ही करप्ट हो तो कैसे दूसरे करप्टिड लोगों का पैसा वापस लाएगा। उन्होंने शरीफ को सबसे बड़ा टैक्स चोर करार दिया।

इसके बाद इमरान ने पीएम मोदी को टारगेट किया । कहा मैं अमन में विश्वास करता हूं जंग में नहीं। उन्होंने कहा कि अमेरिका ने अफगानिस्तान पर बमबारी की तो मैंने उसके खिलाफ जंग के खिलाफ ही बोला था। उन्होंने कहा कि कभी फौज से कराई कई जंग अमन नहीं देती। कहा कि दोनों मुल्कों के बीच अमन होगा तो नौजवजानों को नौकरियां मिलेंगी और बेरोजगारी दूर होगी। कहा कि मैं मोदी से मिला था और बात भी की, उस दौरान उन्होंने कहा कि हम अपने मसले बातचीत से निकालेंगे बजाए जंग के। लेकिन जब भारत में कोई धमाका होता तो बिना जांच के पाक को निशाना बनाया जाता है। उन्होंने कश्मीर के बारे में कहा कि 26 साल से वहां के लोग कुर्बानियां दे रहे हैं। कहा कि बच्चों की आंखों में छर्रे मारे। इमरान ने गुजरात के गोधरा कांड का जिक्र भी किया। उन्होंने कहा पीएम मोदी ने सभी को निराश किया। कहा मोदी एक लीडर नहीं है। उन्होंने कहा कि देखो मोदी ये पाकिस्तान में हर पाकिस्तानी शरीफ जैसा नहीं है। न ही हर पाकिस्तानी शरीफ की तरह बुझदिल होता है। उन्होंने कहा कि मेरा मैसेज है मोदी को..कि ये आपने जो पानी न देने वाली धमकी देने का रास्ता पकड़ा वो ठीक नहीं है।

कान खोल के सुन लो मोदी पूरी कॉम के लोग हम सब एक है। यहां आज लोग बलूचिस्तान के लोग भी आए हैं। कहा आप दोस्ती करेंगे हम दोस्ती करने को  तैयार है। कहा कश्मीर का हल करना पड़ेगा। कश्मीरियों को अधिकार देने पड़ेगा। बंदूकों से गोलियों से आप लोगों की आवाज नहीं दबा सकते। उन्होंने कहा कि जो किसी भी इंसान के साथ जुल्म हो रहा होता है चाहे वो हिंदु तो तब भी वे अपनी आवाज बुलंद करेंगे। हालांकि इमरान खान ने किसी तरह का भड़कीला बयान नहीं दिया। उन्होंने शांती अमन की ही बातें की।

इमरान खान ने पीएम मोदी को शांति की पेशकश करते हुए कहा कि पाकिस्तानी दोस्ती के लिए तैयार हैं क्योंकि दो परमाणु शक्तियों के बीच युद्ध किसी समस्या का हल नहीं है। इमरान ने यहां एक बड़ी रैली को संबोधित करते हुए कहा, ‘‘हम शांति चाहते हैं। हम दोस्ती के लिए तैयार हैं यदि आप की इच्छा हो तो। मैं शांति की पेशकश करता हूं क्योंकि युद्ध समस्याओं का कोई हल नहीं है।

पाक तहरीक ए इंसाफ प्रमुख ने कहा कि जब वह मोदी से भारत में मिले थे तो उनसे कहा था कि दोनों देशों के बीच शांति प्रक्रिया को लोगों का एक छोटा समूह पटरी से उतारना चाहता है। लेकिन जब उरी घटना हुई तो भारत ने बगैर जांच के पाकिस्तान को जिम्मेदार ठहरा दिया और मोदी ने पाकिस्तान को धमकी देनी शुरू कर दी। इमरान ने मोदी से पानी रोकने और सर्जिकल स्ट्राइक के बारे में बात नहीं करने की अपील की। उन्होंने कहा कि पाकिस्तान एकजुट है और किसी भी आक्रमण के लिए अपनी सेना के साथ खड़ा रहेगा।
उन्होंने मोदी को संबोधित करते हुए कहा कि हर पाकिस्तानी नवाज शरीफ की तरह कायर नहीं है।

इमरान ने चेतावनी दी कि भारत को अधिक नुकसान उठाना पड़ेगा और यह भी कहा कि यदि इसने पाकिस्तान के साथ शांति के स्थान पर युद्ध को तरजीह दी तो मोदी का शाइनिंग इंडिया का सपना कभी पूरा नहीं होगा। उन्होंने यह भी कहा कि नवाज का वक्त पूरा हो गया है। उन्हें जाना होगा। यह हमारा दुर्भाग्य है कि वह हमारे प्रधानमंत्री हैं।

कहा मोदी कहीं शरीफ को देखकर कहीं आपको गलतफहमी न हो जाए कि आपको ये लगे कि सारी कॉम वैसी है कि जैसा कि शरीफ। कहा मेरे मां-बाप गुलाम भारत में पैदा हुए थे। उन्होंने कहा था कि मेरे मां-बार ने कहा था कि मैं एक आजाद मुल्क में पैदा हुआ था। कहा मैं अपनी कॉम को कभी भी किसी के आगे नहीं झुकने दिया। कहा मोदी तुम पाकिस्तान को आइसोलेट कर देंगे। कहा हम इसता पैसा इखट्टा करेंगे कि हमें किसी से जरूरत नहीं पड़ेगी। कहा कि सभी पाकिस्तानी भाइयो बहनों आप इमान रखो।

अंत में इमरान ने अपनी आवाम से कहा कि आप सभी पर मुझे प्यार आया है। कहा इतनी धूप में आप सब बैठे हैं, जिस तरह से आप सब निकले हैं मेरा दिल से सलाम और प्यार जा रहा है। आपकी ओर। इस दौरान इमरान के भाषण को सुनने के लिए भारी भीड़ नजर आई।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App