ताज़ा खबर
 

तूफान ‘मैथ्यू’ का कहर: फ्लोरिडा में चार की मौत, हैती में मरने वालों की संख्या 400 के पार

पूर्वोत्तर फ्लोरिडा तट पर पहुंचे मैथ्यू के कारण 175 किमी प्रति घंटा की रफ्तार से हवाएं चल रही थीं।
Author मियामी (अमेरिका)/जेरेमी | October 8, 2016 17:04 pm
तूफान ‘मैथ्यू’ के कारण हैती के जरेमी में क्षतिग्रस्त मकान। (REUTERS/Carlos Garcia Rawlins/6 Oct, 2016)

हैती में भीषण तबाही मचाने के बाद अमेरिका के फ्लोरिडा तट पर पहुंचे तूफान ‘मैथ्यू’ के कारण चार लोगों की मौत हो गई। इस भीषण तूफान से हैती में 400 से अधिक लोग मारे गए हैं। दमकल विभाग की प्रवक्ता ने शुक्रवार (7 अक्टूबर) को बताया कि मध्य फ्लोरिडा की सेंट लूसी काउंटी में 58 वर्षीय एक महिला को रात में दिल का दौरा पड़ा लेकिन ‘मैथ्यू’ के कारण चल रही आंधी के चलते दमकल कर्मी महिला तक नहीं पहुंच सके। सेंट लूसी काउंटी में जिला दमकल विभाग की प्रवक्ता कैथरीन चानी ने बताया कि दमकल कर्मी महिला तक नहीं पहुंच पाए और दुर्भाग्यवश उसकी मौत हो गयी।

इसी तरह बचाव दल को सुबह 82 वर्षीय एक वृद्ध के बारे में सूचना मिली कि उन्हें सांस लेने में कठिनाई हो रही है। लक्षणों से ऐसा प्रतीत हुआ कि उन्हें दिल का दौरा पड़ा था। कैथरीन ने बताया, ‘हम तेज हवाओं के कारण वहां भी नहीं पहुंच सकें।’ उन्होंने बताया कि वृद्ध को एक निजी वाहन से नजदीक के अस्पताल ले जाया गया और बाद में दमकल के अधिकारियों को पता चला कि उनकी मौत हो गई। काउंटी के प्रबंधक जिम डिन्नीन ने बताया कि वोलुसिया काउंटी में एक महिला शुक्रवार दोपहर तूफान धीमा पड़ने के बाद जानवरों को चारा खिलाने के लिए बाहर निकली थी, लेकिन इसी दौरान उसके ऊपर पेड़ गिर जाने से उसकी मौत हो गयी।

उल्लेखनीय है कि इस सप्ताह के शुरू में कैरेबियाई क्षेत्र से उठे श्रेणी पांच के इस तूफान ने हैती, क्यूबा और डोमिनिकन गणराज्य में भारी तबाही मचाई। इसके कारण डोमिनिकन गणराज्य में चार लोगों की मौत हुई। मैथ्यू को शुक्रवार को दूसरी श्रेणी के शक्तिशाली तूफान के रूप में मापा गया। पूर्वोत्तर फ्लोरिडा तट पर पहुंचे मैथ्यू के कारण 175 किमी प्रति घंटा की रफ्तार से हवाएं चल रही थीं।

चक्रवात से हैती में मृतकों की संख्या 400 के पार

हैती के ग्रामीण इलाकों में मैथ्यू चक्रवात के पहुंचने के तीन दिन बाद देश में इससे मरने वालों की संख्या बढ़कर 400 के आंकड़े के पार हो गयी है। मैथ्यू के अमेरिकी तट पर पहुंचने के खतरे के बीच अमेरिका के राष्ट्रपति बराक ओबामा ने अमेरिकियों से हैती की मदद के लिए आगे आने के लिए कहा है, जहां इस हालिया आपदा के बाद लाखों लोगों को सहायता की जरूरत है। गौरतलब है कि पश्चिमी गोलार्द्ध का यह सबसे गरीब देश है। जहां राजधानी और सबसे बड़ा शहर पोर्ट-ओ-प्रिंस बहुत अधिक प्रभावित हुआ वहीं दक्षिणी हिस्से में बहुत अधिक तबाही हुई।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

  1. No Comments.