ताज़ा खबर
 

वेनेजुएला: भूखों मर रही भीड़ ने गाय पर बोला हमला, पत्‍थर मार-मार कर ले ली जान

वेनेजुएला की आर्थिक स्थिति बेहद खराब है। लोगों को खाने-पीने की वस्‍तुएं भी नसीब नहीं हो रही हैं। ऐसे में देश के विभिन्‍न हिस्‍सों में खाद्य पदार्थों की खुलेआम लूटपाट और हिंसा हो रही है।

Author नई दिल्‍ली | January 14, 2018 13:07 pm
वेनेजुएला में भूखे लोगों की भीड़ ने एक गाय को पत्‍थरों से मार डाला। (फोटो सोर्स: टि्वटर)

गंभीर आर्थिक संकट से गुजर रहे दक्षिण अमेरिकी देश वेनेजुएला की स्थिति लगातार बिगड़ रही है। आर्थिक हालत खराब होने से आमलोगों का जीना मुहाल हो गया है। खाद्य पदार्थों की लूटपाट की घटनाएं बेहद आम हो चुकी हैं। भूख से त्रस्‍त लोगों की भीड़ दूध और अनाज को जहां देखते हैं, लूट लेते हैं। लोग जानवरों को भी मार कर खाने लगे हैं। एक ऐसी ही दिल दहला देने वाली घटना सामने आई है। लोगों की एक भीड़ ने अपनी भूख मिटाने के लिए एक गाय को पत्‍थरों से मार-मार कर उसकी जान ले ली। इसका वीडियो सोशल नेटवर्किंग साइटों पर वायरल हो रहा है। यह घटना वेनेजुएला के लोगों की हालत को बयान करता है। इसके बावजूद आमलोगों की परेशानी को दूर करने के लिए पर्याप्‍त कदम नहीं उठाए जा रहे हैं।

जानकारी के मुताबिक, यह मामला वेनेजुएला के मेरिडा के हसिएंडा मीराफ्लोर्स का है। भूखे लोगों की भीड़ ‘हम भूखे हैं, हम भूखे हैं’ चिल्‍लाते हुए गाय के पीछे भाग रहे थे। लोगों ने गाय को चारों तरफ से घेर कर उस पर पत्‍थरों से हमला कर दिया। कुछ लोगों को लाठी-डंडों से मारते हुए भी देख जा सकता है। गाय के मरने के बाद उसके मांस के लिए बहुत से अन्‍य लोग भी वहां इकट्ठा हो गए थे। मीडिया रिपोर्ट के मुताबिक, यह एकमात्र घटना नहीं है। देश के कई हिस्‍सों में भूखी भीड़ द्वारा गायों को मारने की घटनाएं हो चुकी हैं। इसके बावजूद राष्‍ट्रपति निकोलस माडुरो पर इसका कोई असर नहीं पड़ रहा है। सरकार की ओर से लोगों को जरूरी सुविधाएं मुहैया कराने के लिए पर्याप्‍त प्रयास नहीं किए जा रहे हैं। भूखे लोगों के हिंसक विरोध-प्रदर्शनों में अब तक कई लोगों के मारे जाने की खबरें आ चुकी हैं।

वेनेजुएला कच्‍चे तेल के भंडार और उसके उत्‍पादन के मामले में दुनिया के शीर्ष देशों में शुमार होता है। लेकिन, सरकार की गलत नीतियों को लेकर देश की अर्थव्‍यवस्‍था चौपट हो चुकी है। अमेरिकी प्रतिबंध के चलते स्थिति और भी गंभीर होती जा रही है। अमेरिका कई बार राष्‍ट्रपति माडुरो से निष्‍पक्ष चुनाव कराने को कह चुका है, लेकिन वह सत्‍ता छोड़ने के लिए तैयार नहीं हैं। इस गतिरोध के कारण देश की जनता का बुरा हाल हो गया है। देश में हर तरफ अराजकता का आलम है। सुरक्षाबल भी खुद को बेबस महसूस कर रहे हैं।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App