ताज़ा खबर
 

चीन: मस्जिद तोड़ने के विरोध में सड़क पर उतरा मुस्लिम समुदाय, पहली बार बैरंग लौटे अधिकारी

इसे देश में इस्लाम का प्रसार रोकने की चीन सरकार की कोशिशों पर सबसे बड़ा आघात माना जा रहा है। हुई मुस्लिम जिनजियांग प्रांत के उईगर मुस्लिमों के बाद चीन का दूसरा सबसे बड़ा मुस्लिम समुदाय हैं।

तस्वीर का इस्तेमाल प्रतीकात्मक तौर पर किया गया है। (फोटाे- AP)

चीन के अधिकारियों ने देश के उत्तरी पश्चिमी हिस्से में बनी मस्जिद को गिराने का विचार फिलहाल छोड़ दिया है। ये कदम अधिकारियों को सैकड़ों की संख्या में स्थानीय हुई मुस्लिमों के धरने पर बैठने के कारण उठाना पड़ा है। इसे देश में इस्लाम का प्रसार रोकने की चीन सरकार की कोशिशों पर सबसे बड़ा आघात माना जा रहा है। ये बातें स्थानीय मीडिया के हवाले से लिखी गई हैं।

रिपोर्ट के मुताबिक, हुई मुस्लिम जिनजियांग प्रांत के उईगर मुस्लिमों के बाद चीन का दूसरा सबसे बड़ा मुस्लिम समुदाय हैं। हुई मुस्लिमों की बड़ी तादाद दोपहर से देर रात तक वीझझू ग्रांड मस्जिद के बाहर जमा रही। ये लोग स्थानीय प्रशासन के द्वारा मस्जिद को तोड़ने का विरोध करने के लिए जमा हुए थे। देर रात स्थानीय प्रशासन के प्रमुख मस्जिद में आए और प्रदर्शन करने वालों से घर जाने की अपील की। लोगों को आश्वासन भी दिया गया कि मस्जिद को तब तक कोई नुकसान नहीं होगा, जब तक सभी लोग इसके पुनर्निर्माण की योजना पर सहमत नहीं हो जाते हैं।

हॉन्ग कॉन्ग के साउथ चाइना मॉर्निंग पोस्ट ने स्थानीय सूत्रों के हवाले से ये जानकारी दी है। निंगसा स्वायत्त प्रांत के वीइझू शहर में हुआ ये प्रदर्शन हाल के दिनों में सरकार और मुस्लिम समुदाय के बीच का सबसे बड़ा टकराव था। चीन सरकार देश में इस्लाम के बढ़ते प्रभाव से चिंतित है। अरब की जीवनशैली को इस्लाम अपनाने वाले युवा तेजी से अपना रहे हैं। जबकि चीन की कम्युनिस्ट सरकार इसके खिलाफ अभियान चला रही है।

राष्ट्रपति शी जिनपिंग ने 2015 में एक ‘सिनसाइज रिलीजन’ की नीति पेश की है। इसके मुताबिक चीन के तमाम धार्मिक समूहों को चीन की संस्कृति के मुताबिक ढालने की कवायद चल रही है। वीइजू प्रशासन ने इस मस्जिद पर एक आधिकारिक नोटिस भी ​जारी किया था। इसे तोड़ने के लिए 10 अगस्त की डेडलाइन दी गई थी।

रिपोर्ट के मुताबिक, स्थानीय प्रशासन को आपत्ति इस बात पर है कि मस्जिद के निर्माण के लिए प्लानिंग और कंस्ट्रक्शन विभाग से मंजूरी नहीं ली गई है। इस मस्जिद में चार मीनारों और चांद के साथ प्याज की शक्ल वाले नौ गुंबद बनाए गए हैं। प्रशासन ने बाद में यह भी कहा कि सरकार मस्जिद नहीं गिराएगी लेकिन 8 गुंबद हटाने होंगे। इसी बात पर स्थानीय लोग सरकार का विरोध करने के लिए सड़कों पर उतर आए थे।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App