ताज़ा खबर
 

भारतीय टेक्नोलॉजी के एक्सपर्ट्स को डिजिटल इंडिया में नजर आती हैं अपार संभावनाएं

अमेरिका के बेहद प्रतिस्पर्धी सिलिकॉन वैली क्षेत्र में अपने लिए अहम स्थान बनाने वाले भारतीय प्रौद्योगिकी विशेषज्ञों को मोदी सरकार की महत्वाकांक्षी डिजिटल योजना में अपार संभावनाएं दिखती हैं।

Author वाशिंगटन | September 25, 2015 10:41 AM

अमेरिका के बेहद प्रतिस्पर्धी सिलिकॉन वैली क्षेत्र में अपने लिए अहम स्थान बनाने वाले भारतीय प्रौद्योगिकी विशेषज्ञों को मोदी सरकार की महत्वाकांक्षी डिजिटल योजना में अपार संभावनाएं दिखती हैं।

सफल उद्यमी, प्रकाश भालेराव ने कहा कि भारत मूल्य श्रृंखला में आगे बढ़ रहा है और सेवा उद्योग से उत्पाद विकास के दायरे में प्रवेश करेगा।

भालेराव ने सनीवेल में डिजिटल इंडिया पर चर्चा में कहा भारत में शुरच्च्आत में निवेश करने वाले उद्यम पूंजी निवेशकों ने सिलिकॉन वैली के सफल कारोबारी माडल को दोहराया, मसलन आमेजन के आधार पर फ्लिपकार्ट, उबर के आधार पर ओला आदि। साथ ही उन्होंने उद्यम पूंजी निवेशकों को अच्छा मुनाफा दिया।

उद्यम पूंजी निवेशक, भालेराव ने कहा कि इसमें बदलाव आ सकता है क्योंकि भारतीय बाजार का उभार अब शुरु हो गया है। वैश्विक भारतीय प्रौद्योगिकी पेशेवर संगठन के संस्थापक और ओरैकल में बिग डाटा निदेशक खांडेराव कांड ने कहा ‘हमारा मानना है कि प्रधानमंत्री मोदी को भारत को विकासशील देश से विकसित देश में तब्दील करने की अपनी योजना में सिलिकॉन वैली की ओर से प्रौद्योगिकी एवं नवोन्मेष में महत्वपूर्ण भूमिका नजर आती है।’

उन्होंने कहा कि प्रौद्योगिकी विशेषज्ञों और उद्यमियों में उत्साह है और वे इस सप्तहांत मोदी के स्वागत के लिए बेसब्री से इंतजार कर रहे हैं। सिमेंटेक के मुख्य प्रौद्योगिकी अधिकारी और उपाध्यक्ष :इंजीनियरिंग: ने कहा कि डिजिटलीकरण के अभाव में सेवा और स्वास्थ्य सुविधा प्राप्त करने में वक्त लगता है। इसके कारण पारदर्शिता का अभाव और प्रणाली में भ्रष्टाचार पैदा होता है।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App