ताज़ा खबर
 

ह्यूस्टन में आई बाढ़ में 6 की मौत, 470 से अधिक उड़ानें रद्द, 1 लाख से अधिक घरों में अंधेरा

ह्यूस्टन और हैरिस काउंटी के अधिकारियों के मुताबिक 1,200 से अधिक लोगों को बचाया गया। हैरिस काउंटी में अधिकारियों ने एक आपदा क्षेत्र घोषित किया है

Author ह्यूस्टन | Published on: April 19, 2016 10:07 PM
बाढ़ से बचने के लिए सुरक्षित स्थानों की ओर जाते स्थानीय निवासी। (एपी फोटो)

अचानक आई भीषण बाढ़ में यहां भारतीय मूल की एक अमेरिकी महिला इंजीनियर समेत कम से कम छह लोगों की मौत हो गई। इस बाढ़ में कई प्रमुख राजमार्ग जलमग्न हो गए और स्कूलों को बंद करना पड़ा। बेकटेल आयल एंड गैस में वरिष्ठ इलेक्ट्रिकल इंजीनियर 47 वर्षीय सुनीता सिंह अपनी कार में मृत पाई गईं। जिस समय अचानक बाढ़ आई, वह सोमवार (18 अप्रैल) को अमेरिकी प्रांत टेक्सास के सबसे ज्यादा आबादी वाले शहर ह्यूस्टन में अपने दफ्तर जा रही थीं।

एक अधिकारी ने कहा कि ऐसा लगता है कि जब वह महिला एवं अन्य लोग अपने काम पर जा रहे थे तो महिला बाढ़ के पानी में फंस गई। सुनीता के परिवार में उनका पति और एक 15 साल का बेटा है। उसके पति राजीव सिंह ने कहा कि सुनीता ने सुबह करीब 6:50 बजे फोन किया और कहा कि वह संकट में है। उसने सोचा कि उसे तत्काल मदद मिल जाएगी, लेकिन ऐसा नहीं हुआ और वह अपनी कार में मृत मिली।

इस बाढ़ में एक व्यक्ति को एन. बेल्टवे 8 सड़क पर डूबी 18-व्हीलर कैब में मृत पाया गया, जबकि दो अन्य व्यक्तियों को अलग-अलग वाहनों में मृत पाया गया। वालर काउंटी में रायल आईएसडी के 56 वर्षीय अध्यापक एडम्स फ्लैट रोड पर पानी में डूबे एक वाहन में मृत मिले।

इस बाढ़ के चलते सुबह के समय में बुश इंटरकंटिनेंटल और हॉबी एयरपोर्ट पर 470 से अधिक उड़ानें रद्द कर दी गईं।
रात में आए तूफान से इस इलाके में 8 से 16 इंच पानी जमा हो गया। भारी बारिश के चलते स्थानीय स्कूलों को बंद कर दिया गया और 1,21,000 से अधिक निवासियों के घरों में अंधेरा छा गया और कई रास्ते जलमग्न हो गए।

ह्यूस्टन और हैरिस काउंटी के अधिकारियों के मुताबिक 1,200 से अधिक लोगों को बचाया गया। हैरिस काउंटी में अधिकारियों ने एक आपदा क्षेत्र घोषित किया है और अनुमानित तौर पर कम से कम 1,000 मकान बाढ़ में डूब गए हैं।

हैरिस काउंटी में आधे से अधिक वाटरशेड में पानी भर गया है। स्थानीय राष्ट्रीय मौसम सेवा ने निवासियों को चेतावनी दी है कि यदि वे बाढ़ग्रस्त इलाके से भाग नहीं रहे हैं तो कहीं की भी यात्रा न करें। क्षेत्र में करीब 1,20,000 मकानों की बिजली गुल है और पूरे क्षेत्र में स्कूल और पारगमन प्रणाली बंद है।

Hindi News के लिए हमारे साथ फेसबुक, ट्विटर, लिंक्डइन, टेलीग्राम पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News AppOnline game में रुचि है तो यहां क्‍लिक कर सकते हैं।

Next Stories