ताज़ा खबर
 

रूसी राष्ट्रपति व्लादिमीर पुतिन अभी भी हैं अमेरिका के लिए बड़ा खतरा : हिलेरी क्लिंटन

हिलेरी ने कहा कि पुतिन राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप के जरिए जो कुछ चाहते थे, उनमें से कुछ उन्हें हासिल हो चुका है, लेकिन रूस को वह सबकुछ हासिल नहीं हो सकता है।

Author नई दिल्ली | October 16, 2017 4:45 PM
हिलेरी क्लिंटन।

अमेरिका की पूर्व विदेश मंत्री हिलेरी क्लिंटन ने चेतावनी दी है कि रूसी राष्ट्रपति व्लादिमीर पुतिन अभी भी वाशिंगटन के लिए एक बड़ा खतरा हैं। हिलेरी ने ‘सीएनएन’ के साथ रविवार को एक साक्षात्कार में कहा, “उन पर नजर रखें।” हिलेरी ने जनवरी में खुफिया रिपोर्टों का हवाला देते हुए कहा कि पुतिन ने 2016 के राष्ट्रपति चुनाव में उन्हें नुकसान पहुंचाने और ट्रंप अभियान को बढ़ावा देने के लिए रूसी अभियान को प्रत्यक्ष निर्देश दिया था।

उन्होंने कहा कि पुतिन राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप के जरिए जो कुछ चाहते थे, उनमें से कुछ उन्हें हासिल हो चुका है, लेकिन रूस को वह सबकुछ हासिल नहीं हो सकता है। हिलेरी ने कहा कि उनका मानना है कि उनके खिलाफ किसी षडयंत्रकारी ने पुतिन को प्रेरित किया था, लेकिन रूसी नेता वाशिंगटन के साथ एक व्यापक, वैचारिक लड़ाई का आयोजन भी कर रहे हैं।

2016 के राष्ट्रपति पद की उम्मीदवार रहीं हिलेरी ने ‘सीएनएन’ से कहा, “मुझे लगता है कि हमारे खिलाफ पुतिन का अभियान अमेरिका के लोकतंत्र को प्रभावित करने से अधिक संबंधित था। वह एक ऐसा अमेरिका चाहते हैं, जो अंदर से विभाजित हो।” वहीं, रूस ने कई बार खुद पर लगे अमेरिकी राष्ट्रपति चुनावों को प्रभावित करने के आरोप खारिज किए हैं।

उल्लेखनीय है कि नवंबर में हुए अमेरिकी राष्ट्रपति पद के चुनाव में हिलेरी को डोनाल्ड ट्रंप से हार का सामना करना पड़ा था। कुछ महीने पहले खबर आई थी कि हिलेरी क्लिंटन दोबारा कभी कोई चुनाव नहीं लड़ेंगी। भारतीय मूल की उनकी सहयोगी नीरा टंडन ने यह बयान इन अटकलों के बीच दिया था, जिनमें कहा जा रहा था कि पूर्व विदेश मंत्री न्यूयॉर्क के मेयर पद के लिए चुनाव लड़ सकती हैं। टंडन ने सीएनएन से कहा था, “मुझे लगता है कि वह बच्चों और परिवारों की मदद के लिए प्रयास करेंगी। पूरे जीवन उन्होंने ऐसा किया है और ऐसे कई मुद्दे भी हैं जो आने वाले कुछ सालों में उन्हें प्रभावित करेंगे।”

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App