ताज़ा खबर
 

मोदी ने सिख समुदाय से कहा, चौंकाने वाली खुशखबरी देंगे

प्रतिकूल सूची या काली सूची को लेकर विभिन्न सुरक्षा एजंसियों की समीक्षा बैठक के बाद भारत सरकार ने देश-विरोधी गतिविधियों में लिप्त होने के आरोपों की सूची में से 312 विदेशी सिख नागरिकों के नाम हटा दिए थे।

Author नई दिल्ली | Updated: September 23, 2019 1:01 AM
मोदी ने मुसलिम दाऊदी बोहरा समुदाय के लोगों से मुलाकात की। इस समुदाय के लोग आम तौर पर पश्चिमी भारत से ताल्लुक रखते हैं। माना जाता है कि मुसलिमों के इस समुदाय में प्रधानमंत्री मोदी की अच्छी पकड़ है।

अमेरिका से सिखों के 50 सदस्यों के एक प्रतिनिधिमंडल ने ह्यूस्टन में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से मुलाकात की और काली सूची से समुदाय के तीन सौ से अधिक लोगों के नाम हटाने के लिए उनका शुक्रिया अदा किया। सिख समुदाय ने अपनी मांगों का एक ज्ञापन प्रधानमंत्री को सौंपा, जिसमें 1984 के सिख दंगे, भारतीय संविधान के अनुच्छेद 25 और आनंद मैरिज एक्ट, वीजा, पासपोर्ट नवीकरण जैसे विषयों पर अपनी मांगें रखी। मोदी ने सिख प्रतिनिधिमंडल को कुछ देर संबोधित किया। उन्होंने कहा कि अगले कुछ दिनों में उनके पास उन्हें बताने के लिए चौंकाने वाली खुशखबरी होगी। लेकिन इसके लिए उन्हें कुछ समय इंतजार करना होगा।

प्रतिकूल सूची या काली सूची को लेकर विभिन्न सुरक्षा एजंसियों की समीक्षा बैठक के बाद भारत सरकार ने देश-विरोधी गतिविधियों में लिप्त होने के आरोपों की सूची में से 312 विदेशी सिख नागरिकों के नाम हटा दिए थे। विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता रवीश कुमार के मुताबिक, समुदाय के सदस्यों ने मोदी से मुलाकात के दौरान उन्हें पारंपरिक ‘सिरोपा’ भेंट किया। प्रतिनिधिमंडल का हिस्सा रहे इंडियाना के गुरिंदर सिंह खालसा ने कहा, ‘हमने प्रधानमंत्री से राजनीतिक शरण चाहने वाले सिखों के लिए वीजा और पासपोर्ट सेवा उपलब्ध कराने का अनुरोध किया। यह अमेरिका में बड़ी तादाद में रहने वाले सिख समुदाय के लिए अहम है।’ प्रधानमंत्री मोदी ने ट्वीट किया, ‘ह्यूस्टन में सिख समुदाय के लोगों के साथ मेरी शानदार बातचीत हुई। भारत के विकास को लेकर उनका जुनून देखकर मुझे अच्छा लगा।’

विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता ने ट्वीट किया कि समुदाय के सदस्यों ने मोदी को भारत सरकार द्वारा लिए गए कुछ साहसिक फैसलों पर बधाई दी। प्रतिनिधिमंडल ने प्रधानमंत्री से गुरु नानक देव जी के 550वें प्रकाश वर्ष के उपलक्ष्य में नई दिल्ली स्थित इंदिरा गांधी अंतरराष्ट्रीय हवाई अड्डे का नाम बदल कर उसे गुरु नानक देव अंतरराष्ट्रीय हवाई अड्डा करने का अनुरोध किया।

मोदी ने मुसलिम दाऊदी बोहरा समुदाय के लोगों से मुलाकात की। इस समुदाय के लोग आम तौर पर पश्चिमी भारत से ताल्लुक रखते हैं। माना जाता है कि मुसलिमों के इस समुदाय में प्रधानमंत्री मोदी की अच्छी पकड़ है। प्रधानमंत्री मोदी ने इस समुदाय के लोगों से मुलाकात के बाद ट्वीट कर कहा, दाऊदी बोहरा समुदाय ने खुद को दुनिया भर में प्रतिष्ठित किया है। ह्यूस्टन में मुझे इस समुदाय के लोगों से मिलकर कई विषयों पर बात करने का मौका मिला।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ लिंक्डइन पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

Next Stories
1 पेट्रोनेट सालाना 50 लाख टन एलएनजी का आयात करेगी
2 अमेरिका में ‘हाउडी मोदी’ का डंका, चहुंओर मोदी का जलवा
3 Howdy Modi Event Stream Updates: ट्रंप को भारत आने के निमंत्रण के साथ मोदी ने खत्म किया अपना संबोधन
जस्‍ट नाउ
X