ताज़ा खबर
 

बिहार: जेल में चीनी नागरिक की खातिरदारी, परोसा जा रहा हक्का नूडल्स

बिहार में शराबबंदी कानून के तहत गिरफ्तार किए गए चीनी नागरिक को जेल में हक्का नूडल्स और उबली हुई सब्जियां दी जा रही है। वह भारतीय मसालेदार खाना नहीं खा सकता है।

पुलिस गिरफ्त में चीनी नागरिक (फाइल फोटो)

बिहार में शराबबंदी कानून के तहत गिरफ्तार गए पहलेे विदेशी नागरिक की बेऊर जेल में जमकर खातिरदारी हो रही है। उसे हक्का नुडल्स और उबले हुए वेजिटेबल्स उपलब्ध करवाए जा रहे हैं। दरअसल, बिहार में पूर्ण शराबबंदी कानून लागू है। यहां शराब पीने और बेचने पर कड़ी सजा का प्रावधान है। इस दौरान बीते 17 जून को पटना के गर्दनीबाग इलाके की पुलिस ने मोबाइल फोन निर्माता कंपनी में काम करने वाले चीनी नागरिक वू तीयानडोंग को शराबबंदी कानून के तहत गिरफ्तार किया था। उसके आवास से 180 एमएल का नेपाली शराब का पैक और भारत में निर्मित शराब की एक खाली बोतल बरामद हुई थी। तीयानडोंग का वीजा पिछले साल 22 दिसंबर को जारी हुआ था और उसके गिरफ्तारी के चार दिन बाद एक्सपायर हो गया। वहीं, शराबबंदी मामले गिरफ्तारी के बाद उसकी जमानत के लिए दायर की गई याचिका को निचली अदालत ने रद्द कर दिया है। इस वजह से उसे अभी कुछ और दिन जेल में बीताने होंगे।

HOT DEALS
  • Samsung Galaxy J6 2018 32GB Black
    ₹ 12990 MRP ₹ 14990 -13%
    ₹0 Cashback
  • Apple iPhone SE 32 GB Gold
    ₹ 19959 MRP ₹ 26000 -23%
    ₹0 Cashback

एक अधिकारी ने बताया कि तीयानडोंग को हक्का नूडल्स और उबले हुए वेजिटेबल्स उपलब्ध करवाए जा रहे हैं। इसके पीछे की वजह यह है कि वह भारतीय मसालेदार खाना नहीं खा सकता है, जो जेल में दिए जाते है। नूडल्स और उबले वेजिटेबल्स के अलावा वह कभी कभी सादा चावन और ब्रेड खाता है। सूत्रों के अनुसार, उसके परिवार के एक व्यक्ति ने दुभाषिए की मदद से जेल में उससे मुलाकात की। उसी दुभाषिए ने बताया कि उसे किस तरह का भोजन जेल में दिया जा रहा है। तीयानडोंग को विजिलेंस वार्ड में रखा गया है, जहां घूस लेते पकड़े जाने वाले व अन्य आर्थिक अपराधों में शामिल लोगों को रखा जाता है।

तीयानडोंग पहला विदेशी नागरिक है, जिसे बिहार में शराबबंदी कानून के तहत गिरफ्तार किया गया। उसकी गिरफ्तारी भारत और चीन के अधिकारियों के बीच एक गंभीर मसला बन गया है। कोलकाता में रहने वाले चीन के एक अधिकारी ने इस बाबत पटना पुलिस से भी मुलाकात की है। पटना पुलिस ने जहां से तीयानडोंग को गिरफ्तार किया गया था, वह चीनी मोबाइल कंपनी द्वारा कर्मचारियों के लिए गेस्ट हाऊस के रूप में उपयोग किया जा रहा था। उस समय वहां नौ चीनी नागरिक रह रहे थे।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App