पेरिस हमलों के संदिग्ध अब्दुस्सलाम ने पूछताछ के दौरान इस्तेमाल किया 'चुप्पी का अधिकार' - Jansatta
ताज़ा खबर
 

पेरिस हमलों के संदिग्ध अब्दुस्सलाम ने पूछताछ के दौरान इस्तेमाल किया ‘चुप्पी का अधिकार’

फ्रांस के आतंकवाद रोधी जज की ओर से पूछताछ किए जाने के दौरान शुक्रवार को पेरिस में हमलों को अंजाम देने वाले जेहादी सेल के सदस्य सालेह अब्दुस्सलाम ने सवालों के जवाब देने से इंकार कर दिया।

Author पेरिस | May 21, 2016 1:16 AM
अब्दुस्सलाम के वकील फ्रैंक बर्टन ने कहा कि उनके मुवक्किल ने चुप्पी के अधिकार को अपनाया है।

फ्रांस के आतंकवाद रोधी जज की ओर से पूछताछ किए जाने के दौरान शुक्रवार को पेरिस में हमलों को अंजाम देने वाले जेहादी सेल के सदस्य सालेह अब्दुस्सलाम ने सवालों के जवाब देने से इंकार कर दिया। अब्दुस्सलाम के वकील फ्रैंक बर्टन ने कहा कि उनके मुवक्किल ने चुप्पी के अधिकार को अपनाया है।

पिछले महीने 26 वर्षीय अब्दुस्सलाम ने कहा था कि वह सबकुछ बयां करना चाहता है। बर्टन ने संवाददाताओं से कहा कि अब्दुस्सलाम जेल में 24 घंटे वीडियो निगरानी में रखे जाने से परेशान था और इसे गैरकानूनी करार दिया। उन्होंने कहा, ‘वह 24 घंटे वीडियो में देखा जाना बर्दाश्त नहीं कर सकता। मनोवैज्ञानिक तौर पर ये चीजों को मुश्किल बनाता है।’ अब्दुस्सलाम को पूछताछ के लिए कड़ी सुरक्षा के बीच शुक्रवार को तड़के मध्य पेरिस लाया गया था। इस दौरान उसके आस पास सुरक्षा के लिए सैन्य पुलिस, विशिष्ट पुलिस इकाइयां और एक हेलीकॉप्टर तैनात था। अधिकारियों को उम्मीद थी कि अब्दुस्सलाम पेरिस हमलों संबंधी विस्तृत जानकारी पर प्रकाश डालेगा और वह इस बारे में भी कोई जानकारी मुहैया करा सकता है कि क्या सेल के अन्य सदस्य अब भी फरार हैं।

अब्दुस्सलाम कई महीनों तक यूरोप में सर्वाधिक वांछित भगोड़ा था। उसे ब्रुसेल्स के निकट मोलेनबीक से 18 मार्च को गिरफ्तार किया गया था। उसे 27 अप्रैल को कड़ी सुरक्षा के बीच फ्रांस को सौंपा गया था। वह तभी से पेरिस के दक्षिण पूर्व में फ्लेयुरी मेरोगिस जेल में बंद है। ऐसा माना जा रहा है कि संदिग्ध सरगना अब्दुल हामिद अबाउद के बचपन के दोस्त अब्दुस्सलाम ने 13 नवंबर को हुए पेरिस हमलों की रात को और उनकी तैयारी करने में अहम भूमिका निभाई दी। इस्लामिक स्टेट समूह द्वारा किए गए हमलों के संबंध में फ्रांस में दो अन्य आरोपियों को पकड़ा गया था लेकिन उन्हें हमले में सहायक सहयोगी माना जा रहा है।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App