ताज़ा खबर
 

इजरायली पीएम की पत्‍नी ने बाहर से मंगवाया 68 लाख रुपये का खाना, धोखाधड़ी का केस दर्ज

सारा पर एक सरकारी कर्मचारी के साथ मिलकर रेस्‍तरां से सैकड़ों बार भोजन मंगाने के लिए एक लाख डॉलर से ज्‍यादा की रकम हासिल करने का आरोप है। यह नियमों का उल्‍लंघन है क्‍योंकि घर पर कुक की नियुक्ति के दौरान बाहर से खाना मंगाने पर पाबंदी है।

इजरायली प्रधानमंत्री बेंजामिन नेतन्‍याहू और पत्‍नी सारा के साथ बॉलीवुड अभिनेता अमिताभ बच्‍चन। (Express File Photo by Pradip Das)

इजरायल के प्रधानमंत्री बेंजामिन नेतन्‍याहू की पत्‍नी, सारा पर धोखाधड़ी का आरोप लगा है। रॉयटर्स ने न्‍याय मंत्रालय के हवाले से यह जानकारी दी। आरोप है कि अपने आधिकारिक आवास पर कैटरिंग से खाना मंगाने में सरकारी पैसे का दुरुपयोग किया गया। ‘मिल्स आर्डरिंग अफेयर’ के रूप में पहचाने जाने वाले इस मामले में, गुरुवार को जेरूसलम मजिस्ट्रेट की अदालत में दायर एक अभियोग के मुताबिक, “अभियोजकों ने कहा कि सारा नेतन्याहू ने 2010 से 2013 के दौरान प्रधानमंत्री के आवास पर 1 लाख डॉलर (67,77,500 रुपये) मूल्य के भोजन के पैसे चुकाने के लिए सरकारी खजाने का दुरुपयोग किया।” सीएनएन ने अभियोजकों के हवाले से कहा, उन्होंने कथित रूप से निजी शेफ को भी करीब 10,000 डॉलर का भुगतान किया। सारा पर एक सरकारी कर्मचारी के साथ मिलकर रेस्‍तरां से सैकड़ों बार भोजन मंगाने के लिए एक लाख डॉलर से ज्‍यादा की रकम हासिल करने का आरोप है। यह नियमों का उल्‍लंघन है क्‍योंकि घर पर कुक की नियुक्ति के दौरान बाहर से खाना मंगाने पर पाबंदी है।

इजरायल के न्‍याय मंत्रालय द्वारा जारी अभियोग के अनुसार, सारा पर धोखाधड़ी और विश्‍वासघात के आरोप लगाए गए हैं। प्रधानमंत्री, जिन खिलाफ कई भ्रष्‍टाचार की जांचें चल रही हैं, ने पत्‍नी पर लगे आरोपों को ‘बेहूदा’ कहकर नकार दिया। 59 वर्षीय सारा नेतन्‍याहू कई मौकों पर सुर्खियां बटोर चुकी हैं। अगर सारा को दोषी पाया जाता है तो उन्‍हें अधिकतम पांच वर्ष की जेल हो सकती है। अभी तक यह स्‍पष्‍ट नहीं है कि ट्रायल कब शुरू होगा।

नेतन्‍याहू परिवार विवादों की एक श्रृंखला से गुजर रहा है। फरवरी में, पुलिस ने सिफारिश की थी कि प्रधानमंत्री पर भ्रष्‍टाचार अरौर घूसखोरी के आरोप में मुकदमा चले। ऐसा अंदेशा कम है कि इस ताजा मामले से सारा के पति को कोई खास राजनैतिक नुकसान होगा। इजरायल के नेता के तौर पर यह नेतन्‍याहू का चौथा कार्यकाल है और सभी आरोपों के बावजूद ओपिनियन पोल्‍स में सबसे आगे चल रहे हैं।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App