ताज़ा खबर
 

फ्रांस के राष्ट्रपति ने भारतीय लोकतंत्र को बताया शानदार, व्यापार और कश्मीर के मुद्दे पर भी की बात

फ्रांसीसी प्रेसीडेंट ने कहा कि पहला राफेल अगले महीने भारत आएगा। इसके अलावा उन्होंने मेक इन इंडिया में भी साथ देने की बात कही। उन्होंने आपसी व्यापार बढ़ाने की बात कही। मैक्रो ने पीएम मोदी के इसरो के चंद्रयान 2 के मिशन की सफलता के लिए बधाई दी।

Author चैन्टिली (फ्रांस) | Updated: August 23, 2019 6:26 AM
फ्रांस के राष्ट्रपति एमैनुअल मैक्रों

फ्रांस के राष्ट्रपति एमैनुअल मैक्रों ने भारत के लोकतंत्र की तारीफ की। मैक्रोंं- पीएम मोदी के साथ साझा प्रेस कॉन्फ्रेस कर कहा भारत का लोकतंत्र बेहद शानदार और बेहतर है। इस दौरान देश में फरवरी माह में हुए पुलवामा हमले की कड़ी निंदा की। उन्होंने कहा कि फ्रांस और भारत दोनों मिलकर आतंकवाद के खिलाफ लड़ाई लड़ेंगे। उन्होंने कहा आतंकवाद के खिलाफ वह हमेशा भारत के साथ रहेंगे। फ्रांसीसी प्रेसीडेंट ने कहा कि पहला राफेल अगले महीने भारत आएगा। इसके अलावा उन्होंने मेक इन इंडिया में भी साथ देने की बात कही। उन्होंने कहा दोनो देश आपसी व्यापार बढ़ाने को बढ़ाएंगे। मैक्रों ने पीएम मोदी को इसरो के चंद्रयान 2 के मिशन की सफलता के लिए बधाई दी और साथ दोबारा सरकरा बनाने की भी शुभकामनाएं दी। इस प्रेस कॉन्फ्रेंस के दौरान मैक्रो ने कश्मीर मुद्दे पर भी बात की। उन्होंने कश्मीर के मामले में भारत-पाक के अलावा किसी तीसरे देश को बीच में नहीं आना चाहिए।

बता दें कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने बृहस्पतिवार को फ्रांस के राष्ट्रपति एमैनुअल मैक्रों के साथ बातचीत की। इस दौरान दोनों पक्षों ने व्यापक रणनीतिक साझेदारी को बढ़ावा देने के लिए द्विपक्षीय और आपसी हितों के मुद्दों पर चर्चा की। मोदी ने चेतऊ डी चैन्टिली में मैक्रों के साथ वार्ता शुरू होने से पहले ट्वीट किया, ‘‘ यह यात्रा फ्रांस के नेतृत्व के साथ पहले की गई बातचीत को आगे बढ़ाएगी।’’ चेतऊ डी चैंन्टिली पेरिस से 50 किलोमीटर दूर स्थिति ऐतिहासिक इमारत है। मैक्रों ने मोदी को इस इमारत की ऐतिहासिक अहमियत के बारे में बताया और सदियों पुरानी इमारत दिखाने ले गए।

इससे पहले, प्रधानमंत्री मोदी का हवाईअड्डे पहुंचने पर यूरोप और विदेश मामलों के मंत्री जीन येव्स ले ड्रायन ने स्वागत किया। मोदी ने ट्वीट किया, ‘‘ फ्रांस पहुंच गया हूं और अहम द्विपक्षीय यात्रा की शुरूआत कर रहा हूं। भारत और फ्रांस के बेहद दोस्ताना संबंध हैं और वर्षों से द्विपक्षीय और बहु पक्षीय रूप से एक साथ काम कर रहे हैं।’’ मोदी दो दिवसीय इस यात्रा के दौरान अपने फ्रांसीसी समकक्ष एडवर्ड फिलिप से भी मुलाकात करेंगे और यहां भारतीय समुदाय से भी बातचीत करेंगे।

वह फ्रांस में 1950 तथा 1960 के दशकों में एयर इंडिया के दो विमान हादसों में मारे गए पीड़ितों की याद में बनाए गए एक स्मारक स्थल का उद्घाटन करेंगे।
मोदी ने भारत से रवाना होने से पहले दिए गए अपने बयान में कहा था कि फ्रांस भारत का मजबूत रणनीतिक साझेदार है और दोनों ही देश इसकी अहमियत गहराई से समझते हैं और इसे साझा करते हैं।

प्रधानमंत्री ने कहा कि भारत और फ्रांस के बीच उत्कृष्ट द्विपक्षीय संबंध हैं, जो दोनों देशों और दुनिया के लिए शांति और समृद्धि को बढ़ाने के लिए सहयोग करने के एक साझा दृष्टिकोण से प्रबल हुए हैं। उन्होंने कहा कि हमारी मजबूत रणनीतिक और आर्थिक साझेदारी प्रमुख वैश्विक चिंताओं जैसे आतंकवाद, जलवायु परिवर्तन आदि पर एक साझा दृष्टिकोण से पूरित होती है। मोदी ने कहा, ‘‘मुझे विश्वास है कि यह यात्रा आपसी समृद्धि, शांति एवं प्रगति के लिए फ्रांस के साथ हमारी दीर्घकालिक और बहुमूल्य मित्रता को और बढ़ावा देगी।’’

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ लिंक्डइन पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

Next Stories
1 समंदर किनारे से बालू उठाने भर से लगा चोरी का केस, मिल सकती है 6 साल की सजा!
2 VIDEO: ट्रेन में सेल्फी कैमरा किया ऑन और देने लगी ग्लैमरस पोज, महिला की कॉन्फिडेंस की सब कर रहे तारीफ
3 कश्मीर में ‘हिंदू और मुसलमान’ वाला एंगल ले आए ट्रंप! अमेरिकी राष्ट्रपति ने फिर अलापा मध्यस्थता का राग