ताज़ा खबर
 

PAK सेना की बर्बरता: रोजगार मांगने पर चार युवाओं पीटा, ठेकेदार को भी कहा गोली मार दो जो नौकरी मांगे

पाक अधिकृत कश्मीर (PoK) में पाकिस्तान सेना की बर्बरता लगातार सामने आ रही है।

यहां सेना लगातार स्थानीय नागरिकों को अपने जुल्मों का शिकार बना रही है। नया मामला पीओके की नीलम घाटी का है। (एएनआई)

पाक अधिकृत कश्मीर (PoK) में पाकिस्तान सेना की बर्बरता लगातार सामने आ रही है। यहां सेना लगातार स्थानीय नागरिकों को अपने जुल्मों का शिकार बना रही है। नया मामला पीओके की नीलम घाटी का है। यहां सेना ने नौकरी की तलाश में आए चार युवाओं को बुरी तरह पीटा। सेना कथित तौर पर इन युवाओं को घाटी से उठाकर ले गई और पाकिस्तानी ठेकेदार के आदेश पर इन युवाओं को बुरी तरह प्रताड़ित किया। खबर के अनुसार पाक सेना स्थानीय युवाओं पर अपना खौफ बनाए रखने के लिए इन्हें अपना निशाना बनाती रहती है। बीते दिनों पाकिस्तान आर्मी के ही एक अधिकारी ने कथित तौर पर उन लोगों को गोली मारने के आदेश जारी किए थे जो क्षेत्र में नौकरी की तलाश में पहुंच रहे हैं। खुद सेना के अत्याचारों का शिकार बने पीड़ितों ने बताया कि पाकिस्तान आर्मी के कैप्टन ने सेना को ठेकेदारों को आदेश दिया है कि वो अपने साथ गन रखे और नौकरी के तलाश में यहां पहुंचे किसी भी क्षेत्रीय शख्स को गोली मार दें।

पीड़ितों का ये भी कहना है कि स्थानीय अधिकारियों को इस्लामाद से आदेश दिए जाते हैं। पीड़ितों का आरोप है कि शिकायत के बाद भी पुलिस कोई कार्रवाई नहीं करती है। पाकिस्तान सेना हमें कितना भी प्रताड़ित करे लेकिन पुलिस उनके खिलाफ कोई कार्रवाई नहीं करती। गौरतलब है कि इन दिनों सोशल साइट्स पर एक वीडियो भी वायरल हो रहा है जिसमें पाकिस्तान सेना पीओके के निवासियों को बुरी तरह पीटती हुई नजर आ रही है।

दूसरी तरफ जेके एनएपी, यूके के अध्यक्ष महमूद कश्मीरी ने आरोप लगाया कि पाकिस्तान आर्मी लंबे समय से इस तरह की हरकत करती आ रही है। हम मांग करते हैं कि जो भी इस घटना में शामिल हैं उन्हें तुरंत गिरफ्तार किया जाए और सजा दी जाए। पाकिस्तानी सेना को आजाद कश्मीर से बाहर किया जाए। हम इस घटना को यूके में भी उठाएंगे।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ लिंक्डइन पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App