ताज़ा खबर
 

पाकिस्तान के पूर्व प्रधानमंत्रियों का हाल, नवाज शरीफ को जेल में जहर देने का आरोप, अब्बासी पर अफसर ने फेंका ग्लास

नवाज के बेटे हुसैन नवाज ने ट्वीट कर कहा, 'मेरे पिता को शायद जहर दिया गया था क्योंकि जब वो हॉस्पिटल में शिफ्ट हुए थे तब उनके प्लेटलेट्स काफी कम थे।'

Author नई दिल्ली | Published on: October 23, 2019 2:44 PM
पाकिस्तान के पूर्व प्रधानमंत्री नवाज शरीफ। (एक्सप्रेस फाइल फोटो)

जेल में बंद पाकिस्तान के पूर्व प्रधानमंत्री नवाज शरीफ की हालत खराब है और उन्हें हॉस्पिटल में भर्ती कराया गया है। हालांकि पूर्व पीएम की तबियत खराब होने पर उनके बेटे हुसैन नवाज ने सनसनीखेज दावा किया है। उन्होंने आरोप लगाया कि पिता की तबियत इसलिए खराब हुई क्योंकि भ्रष्टाचार रोधी निकाय में हिरासत के दौरान उन्हें जहर दिया गया। तीन बार पाकिस्तान के प्रधानमंत्री रहे और पाकिस्तान मुस्लीम लीग- नवाज (PML-N) के सुप्रीम लीडर को बीते सोमवार की देर रात तबियत खराब होने के बाद लाहौर सर्विस हॉस्पिटल में भर्ती कराया गया था। बताया जाता है कि प्लेटलेट की संख्या काफी अधिक घट जाने के बाद उनकी तबियत बिगड़ गई।

शरीफ (69) 24 दिसंबर, 2018 से जेल की सजा काट रहे हैं जब जवाबदेही अदालत ने अल अजीजिया स्टील मिल्स मामले में उन्हें दोषी करार देकर सात साल की सजा सुनाई थी। शरीफ के निजी फिजिशियन डॉ अदनान खान ने सोमवार को एक ट्वीट में कहा, ‘पूर्व प्रधानमंत्री नवाज शरीफ का प्लेटलेट काउंट काफी घट गया है, यह कई प्रकार के रोगों की वजह से हो सकता है और इसके लिए अस्पताल में रख कर तत्काल इलाज की जरूरत है।’ खान ने कहा, ‘मैंने संबंधित अधिकारियों से तत्काल कदम उठाने का अनुरोध किया है।’ खान ने बताया कि उन्होंने राष्ट्रीय जवाबदेही अदालत (एनएबी) की जेल में शरीफ से मुलाकात की और वह देखने से ही बीमार लग रहे थे।

इसी बीच लंदन में रह रहे हुसैन नवाज ने ट्वीट कर कहा, ‘मेरे पिता को शायद जहर दिया गया था क्योंकि जब वो हॉस्पिटल में शिफ्ट हुए थे तब उनके प्लेटलेट्स काफी कम थे।’ वहीं पीएमएल-एन अध्यक्ष एवं नवाज शरीफ के भाई शहबाज शरीफ ने आरोप लगाया कि उनके बड़े भाई की बिगड़ती सेहत के बावजूद उन्हें जल्द अस्पताल में भर्ती नहीं कराया गया। उन्होंने कहा कि अगर नवाज शरीफ को कुछ हुआ तो इसके लिए प्रधानमंत्री इमरान खान जिम्मेदार होंगे।

उल्लेखनीय है कि पाकिस्तान के पूर्व प्रधानमंत्रियों में शाहिद खाकान अब्बासी भी भ्रष्टाचार रोधी निकाय के रडार पर हैं। आरोप है कि भ्रष्टाचार के आरोप में एक अधिकारी ने जब सवाल पूछे तो उसने अब्बासी के साथ बदसलूकी की। मीडिया रिपोर्ट के मुताबिक पूर्व पीएम पर कथित तौर पर कांच का गिलास तक फेंक दिया। 60 वर्षीय अब्बासी पर आरोप है कि जब वो नवाज शरीफ की कैबिनेट में मेट्रोलियम मंत्री तब उन्होंने नियमों के खिलाफ जाकर एलएलजी टर्मिनल को 15 का अनुबंध दिया।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ लिंक्डइन पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

Next Stories
1 बगल में खड़ा था दुनिया का सबसे अमीर शख्स, स्टूडेंट ने पूछ लिया- कौन हैं Jeff Bezos
2 J&K में मानवाधिकारों पर चिंता जताने वाले अमेरिकी नेताओं को घर में ही मिली नसीहत, यूएस अटॉर्नी बोले- ज्यादा जरूरी है जिंदा रहना
3 अमेरिकी राष्ट्रपति ट्रंप को आई ‘लिंचिंग’ की याद, अपने खिलाफ चल रहे महाभियोग से जोड़ा