ताज़ा खबर
 

पाकिस्तान के पूर्व PM शाहिद खाकन अब्बासी अरेस्ट, इस चीज का है आरोप

उनके खिलाफ यह कार्रवाई अरबों रुपए के घोटाले के मामले को लेकर हुई है। अब्बासी प्रेस कॉन्फ्रेंस में हिस्सा लेने जा रहे थे, तभी उन्हें गिरफ्तार कर लिया गया। उनके साथ पीएमएल-एन के नेता अहसान इकबाल भी थे।

Author नई दिल्ली | July 18, 2019 3:54 PM
पाकिस्तान के पूर्व प्रधानमंत्री शाहिद खाकन अब्बासी। (फाइल फोटोः रॉयटर्स)

पाकिस्तान के पूर्व प्रधानमंत्री और पाकिस्तान मुस्लिम लीग-नवाज (पीएमएल-एन) के नेता शाहिद खाकन अब्बासी गिरफ्तार कर लिए गए हैं। गुरुवार (18 जुलाई, 2019) को यह कार्रवाई नेशनल एकाउंटेबिलिटी ब्यूरो (नैब) ने की। यह जानकारी पाकिस्तानी मीडिया के हवाले से समाचार एजेंसी एएनआई ने दी। स्थानीय अखबार डॉन के मुताबिक, अरबों रुपए के घोटाला मामले में अब्बासी अरेस्ट किए गए हैं, जो कि एलएनजी के इंपोर्ट कॉन्ट्रैक्ट से जुड़ा केस है।

‘डॉन न्यूज टीवी’ ने बताया कि अब्बासी प्रेस कॉन्फ्रेंस में हिस्सा लेने जा रहे थे, तभी उन्हें गिरफ्तार कर लिया गया। उनके साथ पीएमएल-एन के नेता अहसान इकबाल भी थे। शुरुआत में तो वह गिरफ्तारी का विरोध कर रहे थे, पर बाद में उन्होंने पुलिस के साथ सहयोग किया।

प्रक्रिया के अनुसार, माना जा रहा है कि उन्हें शुक्रवार को फिजिकल रिमांड के लिए अकाउंटेबिलिटी कोर्ट में पेश किया जाएगा। साथ ही उनका मेडिकल परीक्षण भी होगा। टि्वटर पर उनकी गिरफ्तारी पर विपक्ष के नेता शहबाज शरीफ ने कड़ी निंदा की। लिखा, “नैब, इमरान खान की कठपुतली बन चुका है। हम ऐसी ओछी हरकतों से दबने या डरने वाले नहीं हैं।”

अब्बासी का अरेस्ट वॉरंट। (फोटोः जियो न्यूज)

नैब ने इससे पहले एनएनजी केस में पूर्व पीएम को समन भी भेजा था, पर वह ब्यूरो के समक्ष पेश नहीं हुए। जांच टीम के मुताबिक, अब्बासी ने पूछे गए 75 सवालों में केवल 20 के ही जवाब दिए थे। दिए गए समय में अब्बासी बार-बार जवाब देने के लिए अधिक समय की मांग कर रहे थे।

अब्बासी को भेजे गए नैब के नोटिस में कहा गया था, “हमारी गुजारिश है कि आप 18 जुलाई, 2019 को नैब इस्लामाबाद में सुबह 10 बजे जांच अधिकारी मलिक जुबेर अमहद के समक्ष हाजिर हों और एनएनजी टर्मिनल पर अपना बयान दर्ज कराएं। आपको सलाह दी जाती है कि इस नोटिस का पालन करने में विफल होने पर आपको नैब ऑर्डिनेंस 1999 के तहत निर्धारित नतीजे भुगतने पड़ सकते हैं।”

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ लिंक्डइन पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App