ताज़ा खबर
 

16 साल पुराने पार्टनर से पीएम ने की शादी, 18 की उम्र में हुई थी पहली मुलाकात, है ढाई साल की बेटी

सना मारिन पूर्व में एक सामाजिक कार्यकर्ता भी रही हैं। वो सोशल मीडिया यूजर रहीं हैं और पर्यावरण के मुद्दों की पुरजोर वकालत करती रही हैं।

Finland’s Prime Minister Weddingफिनलैंड की प्रधानमंत्री सना मारिन अपने पति मार्कस राइकोनेन के साथ। (instagram.com/sannamarin)

फिनलैंड की प्रधानमंत्री और दुनिया में सबसे कम उम्र की पीएम बनी सना मारिन (34) ने लंबे समय तक पार्टनर रहे मार्कस राइकोनेन से विवाह कर लिया है। राइकोनेन पूर्व फुटबॉल खिलाड़ी हैं। दोनों की 18 साल की उम्र में पहली मुलाकात हुई थी और ढाई साल की एक बेटी भी है। पीएम मारिन ने विवाह का आयोजन राष्ट्रीय राजधानी हेल्सिंकी स्थित अपने आधिकारिक आवास पर ही रखा। मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक कोरोना वायरस महामारी को देखते हुए समारोह में सिर्फ चालीस मेहमान शामिल हुए। ये सभी करीबी दोस्त और परिवार के सदस्य थे।

सना मारिन ने इंस्टाग्राम पर पति के साथ तस्वीरें भी शेयर की है। एक तस्वीर के साथ उन्होंने कैप्शन दिया: कल हमने एक-दूसरे को हां कहा। मैं बहुत खुश और आभारी हूं कि मुझे अपना जीवन उस आदमी के साथ बिताना है जिसे में प्यार करती हूं। हमने एक साथ बहुत कुछ देखा और अनुभव किया। खुशियां साझा कीं, दुख साझा किए। मुश्किलों में एक-दूसरे का साथ दिया।

उन्होंने आगे कहा, ‘हम अपनी जवानी में साथ रहे और अपनी प्यारी बेटी के साथ बड़े हुए हैं। सभी लोगों में से तुम (मार्कस राइकोनेन) मेरे लिए सही हो। मेरा होने के लिए धन्यवाद।’ दो घंटे के भीतर मारिन की इंस्टाग्राम पोस्ट को लगभग 85,000 लाइक मिले और सैकड़ों लोगों ने उन्हें अपनी शुभकामनाएं दीं।

Coronavirus in India Live Updates

उल्लेखनीय है कि पीएम मारिन का स्थाई घर टाम्परे में है। मगर कोरोना वायरस के चलते वह अब पीएम के आधिकारिक आवास में रह रही हैं। सना मारिन पूर्व में एक सामाजिक कार्यकर्ता भी रही हैं। वो सोशल मीडिया यूजर रहीं हैं और पर्यावरण के मुद्दों की पुरजोर वकालत करती रही हैं। वो पिछले साल दिसंबर में फिनलैंड की पीएम बनी। देश की सत्ताधारी सोशल डेमोक्रैटिक पार्टी काउंसिल ने प्रधानमंत्री एंटी रिनी के इस्तीफे के बाद उन्हें चुना। जब वह इस पद पर आसीन हुईं तक विश्व में सबसे कम उम्र की सरकार की प्रमुख थीं।

वह साल 2015 में संसद सदस्‍य के रूप में निर्वाचित हुईं। पहली बार साल 2019 में सरकार में शामिल हुईं और उन्होंने ट्रांसपॉर्ट और कम्युनिकेशन मंत्रालय का पद संभाला। संसद में पहुंचने के बाद उन्होंने समानता और जन्म दर को बढ़ावा देने के लिए माता-पिता के समान भुगतान, माता-पिता की छुट्टी की योजना की घोषणा की। उन्होंने पिता बनने पर पितृत्व अवकाश को लगभग सात महीने तक बढ़ाए जाने की वकालत की। ये मातृत्व अवकाश के समान है।

Hindi News के लिए हमारे साथ फेसबुक, ट्विटर, लिंक्डइन, टेलीग्राम पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News AppOnline game में रुचि है तो यहां क्‍लिक कर सकते हैं।

Next Stories
1 अफगानिस्तानः जेल के पास बम धमाके, एक की मौत, 20 जख्मी
2 अमेरिकी राष्ट्रपति चुनाव में हिन्दी, पंजाबी, तमिल, तेलगु से लेकर 14 भाषाओं में हो रहा चुनाव प्रचार, जानें- सियासत का ‘ट्रम्प कार्ड’
3 अमेरिकाः नवंबर में होने वाले राष्ट्रपति चुनाव को टालना चाहते हैं डोनाल्ड ट्रंप, जताई चुनाव में गड़बड़ी की आशंका
ये पढ़ा क्या?
X