scorecardresearch

FBI Raid on Trump House: पूर्व यूएस प्रेसिडेंट डोनाल्ड ट्रंप का दावा- मेरे समर हाउस में घुस आई FBI एजेंटों की फौज, रेड के दौरान की गई तोड़फोड़

पूर्व अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ने रेड को नवंबर में मध्यावधि चुनावों को प्रभावित करने का प्रयास कहा।

FBI Raid on Trump House: पूर्व यूएस प्रेसिडेंट डोनाल्ड ट्रंप का दावा- मेरे समर हाउस में घुस आई FBI एजेंटों की फौज, रेड के दौरान की गई तोड़फोड़
अमेरिका के पूर्व राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रम्प (Photo- AP)

अमेरिका के पूर्व राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ने सोमवार को एक बयान में कहा कि एफबीआई के एजेंटों ने फ्लोरिडा में उनकी मार-ए-लागो घर पर तलाशी, जिसे उन्होंने रेड कहा। यह स्पष्ट नहीं है कि एफबीआई के एजेंट उनके पाम बीच समर हाउस में क्यों मौजूद थे, लेकिन ट्रम्प ने कहा कि उनके समर हाउस की घेराबंदी की गई और वहां छापेमारी की गई। उन्होंने कहा कि एजेंटों ने उनकी तिजोरी तोड़ दी।

डोनाल्ड ट्रंप ने कहा, “संबंधित सरकारी एजेंसियों के साथ काम करने और सहयोग करने के बाद मेरे घर पर यह अघोषित छापा आवश्यक या उचित नहीं था।” पूरे हालात से परिचित एक व्यक्ति के अनुसार डोनाल्ड ट्रंप रेड के दौरान अपने पाम बीच एस्टेट में नहीं थे और न्यूयॉर्क शहर क्षेत्र में थे। अपने बयान में डोनाल्ड ट्रंप ने रेड को नवंबर में मध्यावधि चुनावों को प्रभावित करने का प्रयास कहा और इसकी तुलना वाटरगेट घोटाले के दौरान डेमोक्रेटिक नेशनल कमेटी को परेशान करने वाले निक्सन अभियान से की।

इस साल की शुरुआत में नेशनल आर्काइव्स एंड रिकॉर्ड्स एडमिनिस्ट्रेशन ने मार-ए-लागो में डोनाल्ड ट्रंप के घर से आधिकारिक रिकॉर्ड के 15 बॉक्स बरामद किए थे, जिनमें से कुछ को कथित तौर पर वर्गीकृत या शीर्ष गुप्त का तमगा दिया गया था। अन्य को कथित तौर पर नष्ट कर दिया गया था। एजेंसी जिसे राष्ट्रपति के रिकॉर्ड अधिनियम के तहत जनता के लिए रिकॉर्ड को संरक्षित करने का काम सौंपा गया है, उन्होंने न्याय विभाग से यह निर्धारित करने के लिए भी कहा कि क्या आरोपों को वारंट किया गया था।

डोनाल्ड ट्रंप के बेटे एरिक ट्रम्प ने अमेरिकी मीडिया हाउस फॉक्स न्यूज को बताया कि उन्होंने ही अपने पिता को सूचित किया था कि फ्लोरिडा स्थित घर पर तलाशी हो रही है। उन्होंने कहा कि तलाशी वारंट राष्ट्रपति के दस्तावेजों से संबंधित था। बता दें ट्विटर पर ट्रंप को बैन किया गया है।

डोनाल्ड ट्रंप ने इस बारे में कोई विवरण साझा नहीं किया कि एफ.बी.आई. एजेंटों ने क्या बताया कि उनकी तलाशी क्यों ली जा रही है। वहीं न्यू यॉर्क टाइम्स की रिपोर्ट के अनुसार राष्ट्रपति जो बिडेन के सहयोगियों ने बताया कि वे इस घटनाक्रम से स्तब्ध हैं और ट्विटर के माध्यम से उन्हें इसके बारे में जानकारी मिली।

पढें अंतरराष्ट्रीय (International News) खबरें, ताजा हिंदी समाचार (Latest Hindi News)के लिए डाउनलोड करें Hindi News App.

अपडेट