ताज़ा खबर
 

इस स्कूल की टीचर ने छात्रों को दिया होमवर्क, कहा- सुसाइड नोट लिखकर लाना

इस फैसले के बाद छात्रों के परिजनों में गुस्सा है जिन्होंने कहा कि इससे उनके बच्चों पर बुरा असर पड़ा है।

Homeworkतस्वीर का इस्तेमाल प्रतीक के तौर पर किया गया है

ब्रिटेन के एक स्कूल में अग्रेजी टीचर ने स्टूडेंट्स को होमवर्क में सुसाइड नोट लिखकर लाने को कहा। घटना के बाद विवाद पैदा हो गया और स्कूल से माफी मांगने की मांग की जा रही है। जिन 60 नाबालिग छात्रों से यह होमवर्क करने को कहा वो शेक्सपियर के मशहूर नाटक मैकबेथ को पढ़ रहे ग्रुप का हिस्सा थे। मामला लंदन के क्रिडबूक स्थित थॉमस टैलिस स्कूल का है। छात्रों को कहा गया कि नाटक का मशहूर लेडी मैकबेथ की मौत का सीन पढ़ने के बाद सभी अपने परिवार वालों के लिए एक सुसाइड नोट लिखकर लाएं।

हालांकि इस फैसले के बाद छात्रों के परिजनों में गुस्सा है जिन्होंने कहा कि इससे उनके बच्चों पर बुरा असर पड़ा है। एक छात्रा की मां ने बताया कि उनकी बेटी की 3 दोस्तों ने आत्महत्या की और जब स्कूल ने उनकी बेटी को सुसाइड नोट लिखकर लाने को कहा, तो अपने दोस्तों की मौत को याद कर वह बहुत दुखी हो गई। मां ने यह भी बताया कि इस बात को लेकर उनकी बेटी परेशान भी हुई। उन्होंने कहा, “नाबालिग बच्चों से सुसाइड नोट लिखवाना कहां की समझदारी हो सकती है।”

एक अन्य अभिभावकों ने भी इस फैसले को बिलकुल नासमझी भरा और “असंवेदनशील” बताया। एक अभिभावक ने कहा, ‘अच्छी बात है कि बच्चे शेक्सपियर को पढ़ें, लेकिन उनसे सूइसाइड नोट लिखने को कहना सही नहीं है। जिस किसी शिक्षक ने भी यह आइडिया दिया हो, उसे वापस ट्रेनिंग के लिए भेज दिया जाना चाहिए।’ हालांकि, स्कूल ने इस पर माफी मांग ली है, लेकिन बच्चों के घर वाले इस सब के बाद चिंता में हैं।

Hindi News के लिए हमारे साथ फेसबुक, ट्विटर, लिंक्डइन, टेलीग्राम पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News AppOnline game में रुचि है तो यहां क्‍लिक कर सकते हैं।

Next Stories
1 भारत द्वारा अफगानिस्‍तान में बनाए गए सलमा डैम के नजदीक तालिबान का हमला, 10 अफगानी सैनिकों की मौत
2 कंपनी ने महिला को काला हिजाब पहनने से रोका, बताया “आतंक” का प्रतीक
3 पाकिस्तान में तेल का टैंकर फटने से कम से कम 140 की मौत, 100 से ज्‍यादा घायल
ये पढ़ा क्या?
X