ताज़ा खबर
 

बदहाल है दुनिया को सबसे ज्यादा मिस वर्ल्ड देने वाला यह देश, पेट भरने को जिस्‍म बेच रहीं महिलाएं

कालामार से आई कई महिलाओं का इलाज MDM अस्पताल में चल रहा है। अस्पताल की मनोवैज्ञानिक जॉन जेम्स ने कहा कि ऐसी कालामार शहर से आने वाली ज्यादातर महिलाएं मानसिक अवसाद से गुजर रही हैं। उस इलाके में काफी खतरनाक लोग रहते हैं जो इन्हें काफी प्रताड़ित करते हैं।

Author October 26, 2018 3:47 PM
इस तस्वीर का इस्तेमाल सिर्फ प्रतीक के तौर पर किया गया है। फोटो सोर्स – ( Indian Express)

वेनेजुएला एक ऐसा देश है जिसने अब तक सबसे ज्यादा मिस वर्ल्ड यानी विश्व सुंदरियां दी हैं। लेकिन अब यहां महिलाएं अपना जिस्म बेचने के लिए मजबूर हो गई हैं। इनमें से कई महिलाएं तो पहले शिक्षक और पुलिस अधिकारी जैसे अहम पदों पर भी रह चुकी हैं। लेकिन वेनेजुएला आर्थिक समस्याओं से घिरा हुआ है और यहां सबसे मुश्किल हालात महिलाओं के लिए पैदा हो गए हैं। यह महिलाएं नौकरी और पैसों की तलाश में अपना घर छोड़ बाहर जाने के लिए मजबूर हैं। लेकिन इनमे से ज्यादातर महिलाओं के पास कोई पहचान पत्र नहीं है इसलिए यह महिलाएं अब कोलंबिया में देह व्यापार के धंधे में संलिप्त हो गई हैं। इन महिलाओं को कई तरह की यातनाओं का सामना करना पड़ रहा है। इनमें से कई महिलाओं ने न्यूज एजेंसी एएफपी से बातचीत की है।

सहते हैं मारपीट और रेप :
तीन बच्चों की मां 30 साल की पैट्रीका ने न्यूज एजेंसी को बताया कि एक शराबी युवक ने उनके साथ मारपीट की, उनका बलात्कार किया और उनके साथ अप्राकृतिक संबंध भी बनाए। लेकिन फिर भी वो कालामार शहर में अभी भी इस धंधे से जुड़ी हुई हैं। इस काम में कुछ ऐसे ग्राहक मिलते हैं जो आपके साथ काफी बुरा बर्ताव करते हैं। उन्होंने कहा कि हर दिन मैं भगवान से प्रार्थना करती हूं और कहती हूं कि वो हमारे लिए अच्छे हैं क्योंकि वो हमे पैसे देते हैं।

पैसों की किल्लत बनी वजह:
इतिहास और भूगोल विषय की शिक्षक अल्जीरिया का कहना है कि वेनेजुएला में कई आर्थिक परेशानियां हैं। वहां पर वो इतने कम पैसे कमाती थीं कि वो खाने के लिए एक पैकेट पास्ता भी नहीं खरीद सकती थीं। न्यूज एजेंसी एएफपी से बातचीत करते हुए 26 साल की इस महिला ने बतलाया कि फरवरी में उन्होंने वेनेजुएला छोड़ दिया और कोलंबिया पहुंच गई। इस महिला ने बतलाया कि बाद में वो कालामार आ गईं। आपको बता दें कि कालामार में ड्रग ट्रैफिकिंग और अन्य गैरकानूनी धंधे काफी फेमस हैं। कालामार इलाका दशकों तक खूनी संघर्ष के लिए फेमस रहा है। कालामार कोलंबिया के विद्रोही आर्म्ड गुटों का ठिकाना भी रहा है। इस इलाके में आज भी कई गैरकानूनी काम धड़ल्ले से किये जाते हैं।

कभी अखबार बांटती थीं जोली:
जोली नाम की एक महिला ने लगभग रोते हुए न्यूज एजेंसी से बातचीत की और कहा कि हम इस धंधे में अपनी शौक या इच्छा से नहीं आए। यह महिला साल 2016 में वेनेजुएला में अखबार बांटने का काम करती थीं लेकिन अब वहां अखबार प्रिंट नहीं होते इसलिए उनकी हालत बद से बदत्तर हो गई। जोली का कहना है कि देह व्यापार कर उन्हें यहां इतने पैसे मिल जाते हैं जितने में वो अपने परिवार की देखरेख कर सकें।

कालामार से आई कई महिलाओं का इलाज MDM अस्पताल में चल रहा है। अस्पताल की मनोवैज्ञानिक जॉन जेम्स ने कहा कि ऐसी कालामार शहर से आने वाली ज्यादातर महिलाएं मानसिक अवसाद से गुजर रही हैं। उस इलाके में काफी खतरनाक लोग रहते हैं जो इन्हें काफी प्रताड़ित करते हैं। इसके अलावा वहां मौसम में बदलाव की वजह से कई महिलाएं डेंगू, मलेरिया जैसी बीमारियों से भी पीड़ित हैं। इनमें से कई महिलाओं को यौन संबंधी बीमारियां भी हो रही हैं। करीब 60 महिलाएं कालामार में सेक्स वर्कर के तौर पर काम कर रही हैं। एमडीएम अस्पताल में उन्हें खाने – पीने की चीजें दी जा रही हैं।

करीब 4 साल तक महंगाई की मार और गलत आर्थिक प्रबंधन की वजह से वेनेजुएला में गरीबी की समस्या काफी बढ़ गई है। गरीबी में जीवन गुजार रहे लोगों के लिए यहां खाने-पीने की चीजें और दवाइयां तक खरीदने के पैसे नहीं हैं। यूनाइटेड नेशन की एक रिपोर्ट के मुताबिक आर्थिक तंगी की वजह से वेनेजुएला में साल 2015 से अब तक 1.9 मिलियन लोग पलायन कर गए हैं।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ लिंक्डइन पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

X