ताज़ा खबर
 

पूर्वी तुर्की में शक्तिशाली भूकंप से 20 लोगों की मौत, एक हजार से ज्यादा घायल और 30 लापता

भूकंप के बाद कम से कम 30 लोग लापता हैं। इस भूकंप का केंद्र पूर्वी प्रांत एलाजिग के सिवराइस शहर में था।

Author एलाजिग | Updated: January 25, 2020 6:08 PM
भूकंप से कम से कम 20 लोगों की मौत। फोटो: REUTERS

पूर्वी तुर्की में शुक्रवार की रात आए भयावह भूकंप से कम से कम 20 लोगों की मौत हो गई और 1,000 से अधिक लोग घायल हुए हैं। बचाव दल शनिवार तड़के भी इमारतों के मलबे में जीवित बचे लोगों की तलाश में जुटे रहे। भूकंप की तीव्रता 6.8 मापी गई। भूकंप के बाद कम से कम 30 लोग लापता हैं। इस भूकंप का केंद्र पूर्वी प्रांत एलाजिग के सिवराइस शहर में था।

एलाजिग में रहने वाले 47 वर्षीय मेलाहाट कैन ने कहा, ‘‘यह काफी डरावना था, फर्नीचर हमारे ऊपर गिरने लगा। हम बाहर की ओर भागे।’’ राष्ट्रपति रजब तैयब एर्दोआन ने कहा कि भूकंप से प्रभावित लोगों की मदद के लिए सभी कदम उठाए जा रहे हैं। उन्होंने ट्विटर पर कहा, ‘‘हम अपने लोगों के साथ हैं।’’ डर के चलते अपने घरों से भागे लोग हाड़ कंपा देने वाली ठंड से बचने के लिए सड़कों पर अलाव जलाकर बैठे हैं।

तुर्की सरकार की आपदा एवं आपात प्रबंधन एजेंसी (एएफएडी) ने कहा कि सिवराइस में स्थानीय समयानुसार शुक्रवार रात करीब आठ बजकर 55 मिनट पर भूकंप आया। देश भूकंप के लिहाज से संवदेनशील क्षेत्र है। गृह, पर्यावरण एवं स्वास्थ्य मंत्रियों ने कहा कि एलाजिग प्रांत और पड़ोसी मालात्या प्रांत में अधिक लोगों की मौत हुई।

एएफएडी के अनुसार, कम से कम 20 लोगों की मौत हुई है और 1,015 अन्य घायल हुए हैं। गृह मंत्री सुलेमान सोयलु ने कहा, ‘‘मालात्या में मलबे में कोई फंसा नहीं है लेकिन एलाजिग में 30 लोगों का पता लगाने के लिए तलाश एवं बचाव अभियान चल रहा है।’’ मालात्या में भूकंप पीड़ितों को शरण देने के लिए खेल केंद्र, स्कूल और गेस्ट हाउसों को खोला गया है।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ लिंक्डइन पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

X
Next Stories
1 जिसने किया रेप, उसी से करो शादी- तुर्की में कानून लाने का विचार, हुआ विवाद
2 ईरान हमले के बाद अमेरिका-इराक के बीच अहम बैठक, जारी रहेगी ‘सुरक्षा साझेदारी’
3 घाना में भी लागू होगी ‘उज्ज्वला’ जैसी एलपीजी योजना, भारत करेगा मदद
ये पढ़ा क्या?
X