ताज़ा खबर
 

VIDEO: विदेशी जमीन पर भारत विरोधी नारेबाजी कर रहे पाकिस्तानी समर्थकों से भिड़ीं महिला बीजेपी नेता शाजिया इल्मी, लगाए इंडिया जिंदाबाद के नारे

करीब डेढ़ मिनट के वीडियो में कुछ लोग पाकिस्तानी झंडा लिए आजादी की मांग कर रहे हैं। वीडियो में आवाज आ रही है... 'जोर सो बोले...आजादी... हम लेकर रहेंगे...आजादी।'

Author नई दिल्ली | Published on: August 18, 2019 9:54 AM
पाकिस्तान समर्थकों को मुंहतोड़ जवाब देने के बाद भाजपा नेता शाजिया इल्मी की सोशल मीडिया में खूब तारीफ हो रही है। (फोटो सोर्स वीडियो स्क्रीन शॉट)

जम्मू-कश्मीर को विशेष राज्य का दर्जा देने वाले अनुच्छेद 370 के अधिकतर प्रावधान निरस्त होने के बाद पाकिस्तानी राजनेता और वहां के नागरिकों की बौखलाहट खत्म नहीं हुई है। पाकिस्तानी नागरिक विभिन्न देशों में भारतीय दूतावासों के बाहर कश्मीर पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के नेतृत्व वाली सरकार के फैसले का विरोध कर रहे हैं। कश्मीर से विशेष राज्य का दर्जा छिनने के बाद हाल के दिनों में पाकिस्तानी नागरिकों ने अमेरिका और ब्रिटेन में भारत विरोधी नारेबाजी की।

अब न्यूज एजेंसी एएनआई ने साउथ कोरिया का वीडियो जारी किया है, जहां सियोल भारतीय दूतावास के बाहर पाकिस्तान समर्थक पहुंच गए और भारत विरोधी नारेबाजी करने लगे। मगर उनके भारत विरोधी रुख से भाजपा की महिला नेता शाजिया इल्मी और आरएसएस नेताओं का सामना हो गया। यहां शाजिया इल्मी और अन्य भाजपा नेताओं के अलावा आरएसएस नेताओं ने इन प्रदर्शनकारियों को जमकर लताड़ लगाई और ‘इंडिया जिंदाबाद’ के नारे बुलंद किए।

करीब डेढ़ मिनट के वीडियो में कुछ लोग पाकिस्तानी झंडा लिए आजादी की मांग कर रहे हैं। वीडियो में आवाज आ रही है… ‘जोर सो बोले…आजादी… हम लेकर रहेंगे…आजादी।’ वीडियो में पीएम मोदी और भारत को आतंकी तक कहा गया है। इसी बीच शाजिया इल्मी वहां पहुंच गई और खुद को भारतीय बताते हुए वहां मौजूद लोगों से भारत विरोधी का रुख का कारण पूछा। इसके जवाब में प्रदर्शनकारियों ने हंगामा करते हुए नारेबाजी तेज कर दी। जिसके जवाब में भाजपा महिला नेता ने ‘इंडिया जिंदाबाद’ का नारा लगाया।

बता दें कि सोशल मीडिया में वीडियो वायरल होने के बाद यूजर्स शाजिया इल्मी की खूब तारीफ कर रहे हैं। इल्मी ने बताया कि वो और उनके दो साथी ग्लोबल सिटीजन फोरम के प्रतिनिधिमंडल के रूप में यूनाइटेड पीस फेडरेशन सम्मेलन के लिए सियोल गए थे। सम्मेलन के बाद हम अपने राजदूत से मिलने के लिए भारतीय दूतावास गए।

इल्मी के मुताबिक, ‘वहां से होटल जाने के दौरान कुछ लोगों को पाकिस्तानी झंडा लिए आक्रमक प्रदर्शन करते हुए देखा जो भारत और पीएम मोदी के खिलाफ गलत बातें बोल रहे थे। हमें लगा कि यह हमारी जिम्मेदारी है कि हम उन लोगों को कहे कि देश और पीएम को लेकर अपशब्द ना कहें।’

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ लिंक्डइन पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

Next Stories
1 चुनाव से पहले मंदी के संकेतों ने बढ़ायी ट्रंप की मुश्किलें, बोले- दोबारा नहीं जीता तो आएगा आर्थिक संकट
2 ‘नेहरू के भारत को पीएम मोदी ने कर दिया जमींदोज’, पाकिस्तान के विदेश मंत्री शाह महमूद कुरेशी के ‘खिसयानी बोल’
3 Google पर Bhikhari सर्च करने पर आ रहा पाकिस्तानी प्रधानमंत्री इमरान खान का फोटो, हर तरफ हो रही किरकिरी!