ताज़ा खबर
 

मिड-टर्म इलेक्‍शन में डोनाल्‍ड ट्रंप को झटका, हाउस ऑफ रिप्रेंजेटेटिव में डेमोक्रेट का दबदबा

पहली बार बड़ी संख्या में मतदाता वोट डालने के लिए निकले और पहली बार दो मुस्लिम महिलाओं, एक सबसे कम उम्र की महिला को कांग्रेस में भेजा है।

Author November 7, 2018 4:28 PM
अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रम्प (फोटो सोर्स : Indian Express)

अमेरिका में हुए मध्यावधि चुनावों के परिणाम राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रम्प के लिए करारा झटका माना जा रहा है। तस्वीर साफ होने लगी है कि अब डेमोक्रेटिक पार्टी का कांग्रेस के निचले सदन प्रतिनिधिसभा में नियंत्रण हो जायेगा।  हालांकि उनकी रिपब्लिकन पार्टी का उच्च सदन सीनेट में नियंत्रण बना रह सकता है। इन परिणामों से वाशिंगटन में शक्ति संतुलन बदल जाने की आशा है। साल 2016 में हुये चुनावों में रिपब्लिकन पार्टी का कांग्रेस के दोनों सदनों में बहुमत था पर अब मध्यावधि चुनावों के परिणाम से राष्ट्रपति ट्रम्प को शासन चलाने में कठिनाई का अनुभव हो सकता है। हालांकि देश भर में मतगणना अभी जारी है और कुछ राज्यों में मतदान चल भी रहा है। वहीं दूसरी ओर दो मुस्लिम महिलाएं चुनाव जीत गई हैं।

मध्यावधि चुनावों में कई रिकॉर्ड भी बने। पहली बार बड़ी संख्या में मतदाता वोट डालने के लिए निकले और पहली बार दो मुस्लिम महिलाओं, एक सबसे कम उम्र की महिला को कांग्रेस में भेजा है। इनके अलावा एक समलिंगी पुरूष को गवर्नर पद के लिए चुना गया है।  इल्हान उमर नाम की मुस्लिम महिला ने मिन्नेसोटा की पांचवी कांग्रेसनल डिस्ट्रिक से और राशिदा तालिब ने मिशीगन की 13 वीं कांग्रेसनल डिस्ट्रिक सीट से जीत दर्ज की। दोनों कांग्रेस के लिए चुनी गई पहली मुस्लिम महिलाएं बन गई हैं। ये दोनों विपक्षी डेमोक्रेट पार्टी के टिकट पर विजयी हुई है।

उमर, इसके अलावा ऐसी पहली सोमाली-अमेरिकी महिला हैं जो कांग्रेस में पहुंचेंगी। वह दो दशक पहले बतौर शरणार्थी अमेरिका आईं थीं। उमर की तरह तालिब भी, फलीस्तीन से आये एक शरणार्थी परिवार की पुत्री हैं।

उमर और राशिदा के बाद कांग्रेस में मुसलमान समुदाय के लोगों की संख्या बढ़कर चार हो जायेगी। उनके अलावा दो अन्य मुसलमान पुरूष पहले से ही कांग्रेस में हैं।

महज 29 साल की न्यूयार्क डेमोक्रेटिक कांग्रेसनल प्रत्याशी अलेक्जेंडरिया ओकासिओ-कॉर्टेज ने जीत के साथ कांग्रेस में पहुंचने वाली सबसे कम उम्र की महिला का रिकॉर्ड अपने नाम कर लिया है। लातिन अमेरिकी देश प्यूर्टोरिको के माता पिता की इस संतान ने रिपब्लिकन उम्मीदवार जो क्रोले को हरा कर ये उपलब्धि हासिल की।

इनके अलावा जेयर्ड पोलिस गवर्नर पद के लिए चुने गये हैं। इस पद पर पहुंचने वाले वह देश के पहले समलैंगिक (गे) पुरूष होंगे। वे खुद के समलिंगी होने की सार्वजिनक घोषणा कर चुके हैं। पोलिस समते कई एलजीबीटी उम्मीदवार इस बार गवर्नर पद की दौड़ में शामिल थे।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App