ताज़ा खबर
 

ट्रंप ने ओबामा को बताया ‘घटिया’ राष्ट्रपति, कहा- ओरलैंडो हमलावर से ज्यादा तो मुझसे नाराज हैं यूएस प्रेसिडेंट

‘अब अमेरिका के राष्ट्रपति पद के चुनाव में संभावित रिपब्लिकन उम्मीदवार ने सभी मुसलमानों को अमेरिका आने से रोकने का प्रस्ताव रखा है।’

Author वाशिंगटन | June 16, 2016 2:09 AM
अमेरिका में राष्ट्रपति पद के लिए रिपब्लिकन उम्मीदवार डोनाल्ड ट्रंप। (रॉयटर्स फाइल फोटो)

मुसलिम विरोधी बयानों के कारण अमेरिका के राष्ट्रपति बराक ओबामा ने अमेरिकी राष्ट्रपति पद के संभावित रिपब्लिकन उम्मीदवार डोनाल्ड ट्रंप की आलोचना की, जिसके कुछ ही घंटों बाद ट्रंप ने पलटवार करते हुए ओबामा को ऐसा ‘घटिया’ राष्ट्रपति बताया जो उनके अनुसार ओरलैंडो में गोलीबारी करने वाले से ज्यादा रिपब्लिकन उम्मीदवार से नाराज हैं।

ट्रंप ने उत्तर कैरोलिना के ग्रीन्सबोरो में एक चुनावी रैली में अपने समर्थकों के बीच कहा, ‘वह (ओबामा) गोलीबारी करने वाले पर जितना नाराज थे, मुझसे उससे भी अधिक नाराज हैं और कई लोगों ने ऐसा कहा है।’ उन्होंने कहा, ‘इस स्तर का गुस्सा उन्हें गोलीबारी करने वाले पर होना चाहिए था। इन हत्यारों को यहां नहीं होना चाहिए। हमारे समक्ष कट्टरपंथी इस्लामी आतंकवाद की समस्या है।’

इससे पहले ओबामा ने अमेरिका में मुसलिमों के प्रवेश पर अस्थायी प्रतिबंध लगाने, सतर्कता बढ़ाए जाने और ‘कट्टरपंथ इस्लामी आतंकवादी’ शब्दों का प्रयोग किए जाने समेत मुसलिम विरोधी बयानों के कारण ट्रंप की कड़े शब्दों में आलोचना की थी। ओबामा ने अपनी राष्ट्रीय सुरक्षा परिषद के साथ बैठक के बाद डिपार्टमेंट आॅफ ट्रेजरी में दिए अपने बयान में कहा था, ‘चरमपंथी इस्लाम कोई जादुई शब्द नहीं है। यह एक राजनीतिक चर्चा का विषय है। यह रणनीति नहीं है।’

उन्होंने कहा था, ‘अब अमेरिका के राष्ट्रपति पद के चुनाव में संभावित रिपब्लिकन उम्मीदवार ने सभी मुसलमानों को अमेरिका आने से रोकने का प्रस्ताव रखा है।’ ओबामा ने कहा, ‘ओरलैंडो में हत्या करने वाला, सैन बर्नार्डिनो के हत्यारों में से एक, फोर्ट हूड में हत्या करने वाला- वे सभी अमेरिकी नागरिक थे। क्या हम सभी मुसलिम-अमेरिकियों के साथ अलग तरह से व्यवहार करना चाहते हैं? क्या हम उनके मामले में विशेष सतर्कता बरतने वाले हंै? क्या हम उनकी आस्था के कारण उनके साथ भेदभाव करने वाले हैं?’

उन्होंने कहा कि इससे मुसलिम-अमेरिकियों को महसूस होगा कि जैसे उनकी सरकार उन्हें धोखा दे रही है। राष्ट्रपति ने कहा, ‘यह उन मूल्यों के साथ धोखा करना है जिनके लिए अमेरिका खड़ा होता है। हम अपने इतिहास में भी ऐसे पलों से गुजरे हैं, जब हमने डर कर काम किया और हमें इसका खेद हुआ। हमने हमारी सरकार को हमारे नागरिकों के साथ विश्वासघात करते देखा है और यह हमारे इतिहास का शर्मनाक हिस्सा रहा है।’

इसके जवाब में ट्रंप ने कहा, ‘यदि ओबामा एक महान राष्ट्रपति होते तो मैं बहुत खुश होेता। वे घटिया राष्ट्रपति रहे हैं। उन्होंने खराब काम किया है। हमारे देश में जो हो रहा है, वह विनाशकारी एवं शर्मनाक है।’

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App