ताज़ा खबर
 

चेहरे पर मुस्कुराहट लेकर ब्लैक कॉलेज के लीडर्स से मिले राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप

राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ने ऐतिहासिक अश्वेत कॉलेजों और विश्वविद्यालयों (एचबीसीयू) के प्रति अपने प्रतिबद्धता का संकेत देते हुए एक शासकीय आदेश पर हस्ताक्षर कर दिए हैं और कहा है कि ये शैक्षणिक संस्थान ‘‘व्हाइट हाउस के लिए अत्यधिक प्राथमिकता वाले’’ होंगे।

Author वाशिंगटन | March 1, 2017 11:39 AM
अश्वेत कॉलेज को लेकर बोले डोनाल्ड ट्रंप, कहा- व्हाइट हाउस के लिए अत्यधिक प्राथमिकता वाले होंगे

राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ने ऐतिहासिक अश्वेत कॉलेजों और विश्वविद्यालयों (एचबीसीयू) के प्रति अपने प्रतिबद्धता का संकेत देते हुए एक शासकीय आदेश पर हस्ताक्षर कर दिए हैं और कहा है कि ये शैक्षणिक संस्थान ‘‘व्हाइट हाउस के लिए अत्यधिक प्राथमिकता वाले’’ होंगे। यहां पर ट्रंप ब्लैक ऐतिहासिक ब्लैक कॉलेज के लीडर्र से भी मिले। एचबीसीयू के अध्यक्ष उम्मीद जता रहे हैं कि कांग्रेस इन शैक्षणिक संस्थानों को मजबूत करने के ट्रंप के कार्यों को बढ़ावा देने के लिए आगामी संघीय बजट में कोष को नाटकीय ढंग से बढ़ाएगी।

वे इन संस्थानों की अवसंरचना, आर्थिक मदद और अन्य प्राथमिकताओं के लिए 25 अरब डॉलर की मांग कर रहे हैं। राष्ट्रपति बराक ओबामा के प्रशासन के तहत ऐतिहासिक अश्वेत कॉलेजों और विश्वविद्यालयों को सात साल में चार अरब डॉलर मिले थे। थर्गुड मार्शल कॉलेज फंड के अध्यक्ष जॉनी टेलर ने कल इस हस्ताक्षर समारोह के बाद व्हाइट हाउस के बाहर संवाददाताओं से कहा, ‘‘अगला कदम बजट का है। आप बिना धन के किसी अभियान को नहीं चला सकते।’ टेलर ने कहा कि वर्षों से मिल रहे कम कोष की भरपाई के लिए 25 अरब डॉलर की जरूरत है और देश के 100 से अधिक एचबीसीयू इसके दायरे में आएंगे।

गौरतलब है कि इससे पहले इसी माह अमेरिका के नव निर्वाचित राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ने मार्टिन लूथर किंग जूनियर को एक ‘महान व्यक्ति’ बताया और नागरिक अधिकारों के प्रतीक किंग जूनियर के सम्मान में अमेरिका में मनाए जाने वाले मार्टिन लूथर किंग दिवस पर उनके सबसे बड़े बेटे से मुलाकात की। ट्रंप की यह मुलाकात किंग के एक करीबी समन्वयक जॉन लुइस के साथ उनकी तकरार के माहौल के बीच हुई है। ट्रंप के शपथ ग्रहण से महज कुछ दिन पहले हुई सोमवार (16 जनवरी) की यह बैठक ट्रंप की ओर से अश्वेत समुदाय तक पहुंच बनाने का प्रयास माना जा रहा है। यह मुलाकात ट्रंप और लुइस के बीच सार्वजनिक तौर पर पैदा हुए गतिरोध के बीच हुई है। लुइस एक हाइप्रोफाइल सांसद हैं, जिन्होंने अमेरिकी राष्ट्रपति चुनाव की वैधता पर सवाल उठाए थे और शपथ ग्रहण का बहिष्कार करने का संकल्प लिया था।

डोनाल्ड ट्रंप ने कंसास में मारे गए भारतीय की मौत की निंदा की; US कांग्रेस को संबोधित करते हुए कहा- "बाय अमेरिकन, हायर अमेरिकन"

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App