ताज़ा खबर
 

अमेरिकी राष्ट्रपति ने साल भर के वेतन से 64.13 लाख रुपए दिए दान, सड़क, पुल, बंदरगाह बनाने पर होंगे खर्च

डोनॉल्ड ट्रंप द्वारा ढहती हुई सड़कों, पुलों और बंदरगाहों के पुनर्निमाण की योजना का ऐलान करने के एक दिन बाद बुधवार को व्हाइट हाउस के संवाददाता कक्ष में, उनके वेतन के चौथाई हिस्से को दान देने की घोषणा की गई।

Author वाशिंगटन | February 14, 2018 16:36 pm
अमेरिका के राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप (REUTERS फोटो)

अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप वर्ष 2017 के अपने वेतन का एक चौथाई हिस्सा देश में बुनियादी ढांचों के निर्माण के लिए परिवहन विभाग को देने जा रहे हैं। परिवहन मंत्री एलेन चाओ को राष्ट्रपति से 1,00,000 अमेरिकी डॉलर का चेक मिला है। ट्रंप द्वारा ढहती हुई सड़कों, पुलों और बंदरगाहों के पुनर्निमाण की योजना का ऐलान करने के एक दिन बाद बुधवार को व्हाइट हाउस के संवाददाता कक्ष में, उनके वेतन के चौथाई हिस्से को दान देने की घोषणा की गई। परिवहन विभाग ने कहा कि इस राशि का इस्तेमाल महत्वपूर्ण बुनियादी ढांचा परियोजनाओं से संबंधित कार्यक्रम के लिए किया जाएगा।

राष्ट्रपति इससे पहले अपना वेतन स्वास्थ्य और मानव सेवा विभाग, राष्ट्रीय उद्यान सेवा और शिक्षा विभाग को भी दान दे चुके हैं। चुनाव में उम्मीदवार के तौर पर ट्रंप ने अपना वेतन न लेने का संकल्प लिया था। उनका वेतन प्रति वर्ष 4,00,000 डॉलर है। कानून के अनुसार, उन्हें वेतन देना अनिवार्य है इसलिए वह अपना वेतन दान कर रहे हैं।

वहीं दूसरी तरफ, ट्रंप के निजी वकील ने कहा कि उन्होंने उस पोर्न अभिनेत्री को अपनी जेब से 130,000 डॉलर की राशि दी थी जिसने वर्ष 2006 में कथित तौर पर ट्रंप से यौन संबंध बनाए थे। ट्रंप के निजी वकील माइकल कोहेन ने द न्यूयॉर्क टाइम्स को बताया कि उन्हें स्टॉर्मी डेनियल्स को भुगतान करने के लिए ट्रंप आॅर्गेनाइजेशन या ट्रंप के प्रचार अभियान से कोई राशि नहीं दी गई थी। डेनियल्स का असली नाम स्टेफनी क्लिफोर्ड है।

कोहेन ने कहा, ‘‘मिस क्लिफोर्ड को किया गया भुगतान वैध था और यह अभियान या किसी व्यक्ति द्वारा अभियान पर किए गए खर्च से नहीं लिया गया था।’’ द वाल स्ट्रीट जर्नल ने पिछले महीने एक खबर में कहा गया था कि कोहेन ने अक्टूबर 2016 में 130,000 डॉलर की राशि का बंदोबस्त किया था ताकि वह राष्ट्रपति अभियान के दौरान ट्रंप से कथित यौन संबंधों के बारे में सार्वजनिक रूप से बात ना करें।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App