ताज़ा खबर
 

डोनाल्ड ट्रम्प का खुलकर विरोध कर चुकी इंदिरा नूयी को मिली एडवाइजरी काउंसिल में जगह

इससे पहले ट्रंप रिपब्लिक हिंदू गठबंधन के अध्यक्ष शलभ कुमार को एक वित्त संबंधी टीम की हिस्सा बना चुके हैं।

Author December 15, 2016 05:03 am
पेप्सिको की मुख्य कार्यकारी अधिकारी इंद्रा नूयी। (AP Photo/Manish Swarup/File)

अमेरिका के नवनिर्वाचित राष्ट्रपति डॉनल्ड ट्रंप ने अपनी आर्थिक सलाहकार समिति में प्सिको की चेयरमैन और सीईओ इंदिरा नूई को शामिल किया है। भारतीय मूल की नूई के अलावा स्पेस एक्स और टेस्ला के फाउंडर इलोन मस्क और ऊबर के सीईओ ट्रेविस कालानिक को भी सलाहकार समिति में शामिल किया गया है। काउंसिल का मकसद ट्रम्प को प्राइवेट सेक्टर पर इंडस्ट्री का इनपुट देना है। यह ट्रेड और इकोनॉमी से जुड़े मसलों पर भी प्रेसिडेंट को सलाह देती है। चेन्नई में जन्मीं 61 वर्षीय इंदिरा नूयी 19 सदस्यों वाली इस काउंसिल की अकेली भारतीय मूल की हैं।

बुधवार को इन तीनों दिग्गज हस्तियों को ट्रंप सरकार को आर्थिक मामलों पर सलाह देने के लिए सलाहकार समिति में शामिल करने की घोषणा की गई है। इंदिरा नुई अमेरिकी राष्ट्रपति चुनाव के दौरान ट्रंप की मुखर विरोधी रही हैं। हिलेरी क्लिंटन के ट्रंप के राष्ट्रपति चुने जाने के बाद भी नुई ने टिप्पणी करते हुए कहा था कि ट्रंप की जीत से उनकी बेटियां, समलैंगिक कार्यकर्ता, एंप्लॉयीज और अश्वेत लोग गहरी चिंता में हैं। इंदिरा नूई ने कहा था कि ट्रंप के राष्ट्रपति चुने जाने के बाद से इन लोगों को अपनी सुरक्षा की चिंता सता रही है।

नुई के अलावा चुने गए मस्क ने भी राष्ट्रपति चुनावों के दौरान कहा था कि ट्रंप वाइट हाउस में जाने के काबिल नहीं हैं। ट्रंप ने अपने बयान में कहा कि,हमारा प्रशासन व्यापार के माहौल को बढावा देने के लिए निजी क्षेत्र के साथ मिलकर काम करने का कोशिश करेगा। इससे पहले ट्रंप रिपब्लिक हिंदू गठबंधन के अध्यक्ष शलभ कुमार को एक वित्त संबंधी टीम की हिस्सा बना चुके हैं।

डोनाल्ड ट्रंप बने टाइम पर्सन ऑफ द ईयर 2016

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App